सुशील मोदी के घर में हुआ तेजस्वी का पॉलिटिकल गृह प्रवेश, बोले- 'मैं यहां रहूंगा नहीं'

सुशील मोदी के पांच देश रत्नमार्ग में शिफ्ट करने के बाद ये बंगला खाली पड़ा था. तेजस्वी यादव ने इस बंगले में रहने से इनकार कर दिया था, लेकिन बदलते हालात के साथ तेजस्वी ने इस बंगले को स्वीकार कर ही लिया है.

सुशील मोदी के घर में हुआ तेजस्वी का पॉलिटिकल गृह प्रवेश, बोले- 'मैं यहां रहूंगा नहीं'
काफी हाय-तौबा के बाद तेजस्वी यादव ने अपना नया सरकारी बंगला स्वीकार कर लिया है.

पटना: राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने आखिरकार अपने नए सरकारी आवास एक पोलो रोड में गृह प्रवेश कर ही लिया. उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी (Sushil Modi) पहले इसी आवास में रहा करते थे. सुशील मोदी (Sushil Modi) के पांच देश रत्नमार्ग में शिफ्ट करने के बाद ये बंगला खाली पड़ा था. तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने इस बंगले में रहने से इनकार कर दिया था, लेकिन बदलते हालात के साथ तेजस्वी ने इस बंगले को स्वीकार कर ही लिया है.

मंगलवार को तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) पहली बार एक पोलो रोड के बंगले में गये. अपने एक पोलो रोड के बंगले के गृह प्रवेश को तेजस्वी ने अलग अंदाज में मनाया. गृह प्रवेश के पहले ही दिन अतिपिछडा प्रकोष्ठ की बैठक बुलायी. सदस्यता अभियान को लेकर बुलायी गयी बैठक में प्रकोष्ठ के सभी जिलाध्यक्ष पहुंचे. तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के नये कर्मस्थल को देखकर उनके कार्यकर्ता भी खासे उत्साहित नजर आए.

लाइव टीवी देखें-:

अतिपिछडा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष प्रो. राम बलि सिंह चन्द्रवंशी ने बताया कि तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) की अपने नये बंगले में ये पहली बैठक है. तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) एक नई शुरुआत करने जा रहे हैं जो सफल होगा. पार्टी के महासचिव भाई अरुण ने कहा कि तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) की ये नहीं शुरुआत उन्हें सीएम की कुर्सी तक ले जाएगी. हमलोग नये सिरे से तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) को सीएम बनाने के लिए जी जान से जुटेंगे.

तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) अपने नये घर में प्रवेश तो किये, लेकिन उनका अंदाज थोडा अलग नजर आया. सुशील मोदी (Sushil Modi) के उलट उन्होंने बंगले में प्रवेश के लिए गेट नंबर दो का इस्तेमाल किया. आमतौर पर सुशील मोदी (Sushil Modi) गेट पर नंबर एक का इस्तेमाल किया करते थे. लेकिन तेजस्वी ने गेट नंबर 2 का इस्तेमाल किया. हालांकि तेजस्वी ने साफ किया कि वह इस बंगले में नहीं रहेंगे. वह अपने माता पिता के साथ 10 नंबर के ही बंगले में रहेंगे. वह सुशील मोदी (Sushil Modi) की तरह बंगले पर राजनीति नहीं करेंगे. तेजस्वी ने कहा कि सुशील मोदी (Sushil Modi) को तो माफी मांगनी चाहिए. उन्होंने मेरे बंगले को लेकर जो आरोप लगाये थे सरकार ने उन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया. तेजस्वी ने कहा कि अब मोदी मेरे बंगले में मीटिंग करेंगे और हम उनके बंगले में.