close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजधानी पटना में राम भरोसे है यातायात सुरक्षा, नहीं काम कर रहे ट्रैफिक सिग्नल

पटना में कुछ चौक चौराहों को छोड़ दिया जाए तो आपको कहीं भी ट्रैफिक सिग्नल दुरूस्त नजर नहीं आएगा.

राजधानी पटना में राम भरोसे है यातायात सुरक्षा, नहीं काम कर रहे ट्रैफिक सिग्नल
पटना में ट्रैफिक सिग्नल काम नहीं कर रहे हैं.

पटनाः राजधानी पटना में लोग अपनी-अपनी गाड़ियों से एक छोर से दूसरे छोर जा रहे हैं. लोगों की सुरक्षा और ट्रैफिक दुरूस्त करने के लिए ट्रैफिक सिग्नल लगाए गए हैं. लेकिन कई जगहों पर यह काम ही नहीं कर रहे हैं. ऐसे में अगर आप पटना में गाड़ी चला रहे हैं तो सावधान हो जाएं.

राजधानी पटना में सुबह शुरू होते ही लोग घरों से निकलकर अपने अपने काम में लग जाते हैं. लाखों लोग अपनी बाइक, कार से मंजिल तय करते हैं. लेकिन यह मंजिल कहीं जिंदगी की आखिरी मंजिल ही न बन जाए इस बात का डर लोगों के मन में रहता है. 

दरअसल, पटना में कुछ चौक चौराहों को छोड़ दिया जाए तो आपको कहीं भी ट्रैफिक सिग्नल दुरूस्त नजर नहीं आएगा. कहीं ट्रैफिक सिग्नल का कंट्रोल रूम से संपर्क टूटा हुआ है तो कही वायर ही काम नहीं कर रहे हैं. अगर यह सारी चीजें ठीक होती है तो लाल, पीली और हरी बत्ती काम नहीं कर रही होती है. यानि ट्रैफिक नियमों का पालन आपकी मर्जी है. इसी मनमर्जी में कहीं आप दुर्घटना के शिकार हो जाएं तो इसके लिए जिम्मेदार भी आप ही होंगे.

श्रीकृष्णपुरी जैसे पॉश इलाकों में ट्रैफिक सिग्नल लगाया गया है. यहां से लोग बोरिंग कैनाल रोड, हड़ताली मोड़, सचिवालय की तरफ जाते हैं. यहां ट्रैफिक सिग्नल काम नहीं कर रहा है. केवल एसकेपुरी ही क्यों, बोरिंग रोड चौराहे, आयकर चौराहे पर भी लगी ट्रैफिक सिग्नल लाइट्स का कुछ हिस्सा काम नहीं कर रहा है. ऐसे में लोगों की जान आफत में नजर आ रही है.

हालांकि, डाकबंग्ला चौराहा, हड़ताली मोड़ पर ट्रैफिक लाइट्स काम कर रही हैं. यहां पर ट्रैफिक सिग्नल भी दुरूस्त हैं और ट्रैफिक पुलिस के कर्मचारी भी मौजूद हैं. नियम तोड़े जाने पर चालान भी कट रहे हैं. लेकिन पटना केवल इन इलाकों में नहीं बसता है. पाटलिपुत्र क़ॉलोनी में कुछ दिन पहले ही ट्रैफिक सिग्नल सही किया गया है. लोदीपुर जैसे इलाकों में ट्रैफिक सिग्नल काम नहीं करने की शिकायत बरसो पुरानी है.

पटना के जिला परिवहन अधिकारी अजय कुमार ठाकुर भी मानते हैं कि ट्रैफिक सिग्नल सही तरीके से काम नहीं करते हैं. अजय कुमार ठाकुर के मुताबिक पहले ट्रैफिक सिग्नल दुरूस्त कराने की जिम्मेदारी बुडको के ऊपर थी. लेकिन अब उन्नत किस्म की ट्रैफिक लाइट्स पटना में लगाई जाएगी और इसको लेकर हाई लेवल पर बातचीत भी हो रही है. बिल्कुल नई तरीके की लाइट्स लगाई जाएगी .

शहरों में ट्रैफिक सिग्नल इसलिए लगाए जाते हैं कि ट्रैफिक दुरूस्त हो.आवाजाही आसान हो सके.किसी भी तरह की अनहोनी नहीं हो लेकिन अगर पटना में ट्रैफिक सिग्नल सही तरीके से काम करेंगे तो ऐसे में लोगों का सफर कहीं जीवन का अंतिम सफर न बन जाए.