close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गठबंधन को लीड करने की तैयारी में RLSP चीफ, RJD बोली- तेजस्वी ही हैं CM चेहरा

कुशवाहा ने घोषणा किया कि 13 नवंबर को महागठबंधन की ओर से केंद्र और राज्य सरकार के खिलाफ सभी जिला मुख्यालयों में धरना प्रदर्शन किया जाएगा. 

गठबंधन को लीड करने की तैयारी में RLSP चीफ, RJD बोली- तेजस्वी ही हैं CM चेहरा
उपेन्द्र कुशवाहा महागठबंधन को लीड करने की तैयारी कर रहे हैं. (फाइल फोटो)

पटना: बिहार में महागठबंधन (Mahagathbandhan) के अंदर खूब सियासी दांव पेंच चल रहे हैं. एक तरफ आरजेडी (RJD) ने तेजस्वी यादव को खुले तौर पर महागठबंधन का सीएम उम्मीदवार घोषित कर रखा है. वहीं, उपेन्द्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha)  भी अंदर ही अंदर महागठबंधन को लीड करने की तैयारी कर रहे हैं. आरएलएसपी (RLSP) प्रमुख कि तैयारी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 13 नवंबर को महागठबंधन के घटक दल उपेन्द्र कुशवाहा के नेतृत्व में केंद्र और राज्य सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन करते नजर आएंगे.

इससे लग रह कि उपेन्द्र कुशवाहा अब खुद को महागठबंधन का लीडर साबित करने में जुट गए हैं. शुक्रवार को आरएलएसपी की ओर से महागठबंधन की एक प्रेस कांफ्रेंस बुलाई गई. इसमें कांग्रेस सांसद अखिलेश सिंह, वीआईपी पार्टी (VIP) से मुकेश सहनी, आरजेडी से अर्जुन राय, सीपीआई (CPI) से सत्यदेव सिंह और सीपीएम (CPM) के नेता शामिल हुए. इस प्रेस कांफ्रेंस का नेतृत्व उपेन्द्र कुशवाहा ने किया. कुशवाहा ने घोषणा किया कि 13 नवंबर को महागठबंधन की ओर से केंद्र और राज्य सरकार के खिलाफ सभी जिला मुख्यालयों में धरना प्रदर्शन किया जाएगा. बिहार में चुनाव नजदीक है और राज्य की जनता वर्तमान सरकार से बाहर निकलने के लिए छटपटा रही है. हम जनता की आवाज बनकर आगे आएंगे.

आपको बता दें कि इससे पहले भी उपेंद्र कुशवाहा ने राममनोहर लोहिया की पुण्यतिथी पर महागठबंधन की एकजुटता को लेकर बडा कार्यक्रम किया था. इसमें महागठबंधन के नेता शामिल होकर एकजुटता का परिचय दिए थे. एकबार फिर 13 तारीख को राज्यव्यापी आंदोलन के जरिए कुशवाहा महागठबंधन पर अपनी पकड मजबूत बनाने की तैयारी कर रहे हैं. इधर महागठबंधन से जीतन राम मांझी के अलग होने के बावजूद कुशवाहा का दावा है कि उनके कार्यक्रम में मांझी जरुर शामिल होंगे.

इधर, कांग्रेस सांसद अखिलेश सिंह को भी उपेन्द्र कुशवाहा कि कोशिशों में कोई खामी नजर नहीं आती. अखिलेश सिंह कहते हैं कि कुशवाहा अगर महागठबंधन को एकजुट करने में लगे हैं तो ये अच्छी बात है. कुशवाहा की ओर से पिछली बार किए गए कार्यक्रम में तेजस्वी यादव शामिल हुए थे.

वहीं, आरएलएसपी प्रवक्ता माधव आनंद ने इशारों ही इशारों में उपेन्द्र कुशवाहा की दावेदारी को पुख्ता करार दिया है. माधव आनंद कहते हैं कि कुशवाहा शुरु से ही महागठबंधन को एकजुट करने में लगे हैं. माधव आनंद ने कहा है कि तेजस्वी यादव में सीएम बनने की संभावना है, लेकिन अभी उनकी उम्मीदवारी को लेकर कोई फैसला नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव की उम्मीदवारी को लेकर फैसला महागठबंधन की बैठक में ही होगा.

इधर, आरएलएसपी की ओर से चल रही तैयारियों को आरजेडी ने भांप लिया है. यही वजह है कि पार्टी के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा है कि कोई कुछ भी कहे सीएम उम्मीदवार तो तेजस्वी यादव ही होंगे. इसके लिए महागठबंधन में आम सहमति बन जाएगी. तिवारी ने कहा कि तेजस्वी यादव की लोकप्रियता लगातार बढती जा रही है. हाल के दिनों में हुआ विधानसभा उपचुनाव इसका बडा उदाहरण है.