close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रायबरेली में कांग्रेस का नया 'ट्रेनिंग सेंटर'! 14-16 अक्टूबर तक लगेगी कार्यकर्ताओं की पाठशाला

सूत्रों के मुताबिक, प्रियंका अपनी टीम के सदस्यों को रायबरेली के भूएमऊ गांव में स्थित गेस्ट हाउस में राजनीति की पाठशाला में तैयारी कराएंगी. 

रायबरेली में कांग्रेस का नया 'ट्रेनिंग सेंटर'! 14-16 अक्टूबर तक लगेगी कार्यकर्ताओं की पाठशाला
2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले प्रियंका गांधी वाड्रा अपनी नई टीम को मैदान को पूरी तरह से काबिल बनाना चाहती हैं.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में अपनी खोई हुई जमीन को तलाश रही कांग्रेस (Congress) अब अपने कार्यकर्ताओं को ट्रेनिंग देने जा रही है. नेताओं और कार्यकर्ताओं को यह ट्रेनिंग कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) की निगरानी में दी जाएगी. तीन दिन तक होने वाली इस क्लास में आगामी 2022 में यूपी विधानसभा चुनाव ( UPAssembly Election 2022) को लक्ष्य को लेकर पार्टी के नेताओं को राजनीति के दांवपेंच सिखाए जाएंगे, ताकि मैदान पर उतरने से पहले टीम को मजबूती मिले. 

सूत्रों के मुताबिक, प्रियंका अपनी टीम के सदस्यों को रायबरेली के भूएमऊ गांव में स्थित गेस्ट हाउस में राजनीति की पाठशाला में तैयारी कराएंगी. 

बताया जा रहा है कि इस ट्रेनिंग सेशन में कई क्षेत्रों से जुड़े हुए विशेषज्ञ शामिल होंगे जो प्रियंका गांधी की निगरानी में नेताओं और कार्यकर्ताओं को इस काबिल बनाएंगे कि वह आगामी रणनीतियों को पूरी तरह से सफल बना सकें. बदलते समय के साथ देश की राजनीति का तरीका भी बदला है. राजनीति में अब रणनीतियों के साथ मैनेजमेंट भी काफी अहम योगदान रखती है.

लाइव टीवी देखें

साल 2022 का लक्ष्य कांग्रेस के लिए बहुत अहम है. 2022 को देखते हुए ही प्रियंका गांधी को यूपी की जिम्मेदारी दी गई है. लोकसभा चुनाव 20109 में कांग्रेस का यूपी में प्रदर्शन बेहद खराब रहा  है. ऐसी स्थिति में अब नेताओं में नई ऊर्जा भरनी जरूरी है. लिहाजा प्रियंका गांधी वाड्रा अपनी नई टीम को मैदान में उतरने से पहले पूरी तरह से काबिल बनाना चाहती हैं. 

वहीं, UP कांग्रेस की नई टीम के पदाधिकारियों को रायबरेली में ट्रेनिंग दिए जाने के मामले पर BJP ने निशाना साधा है. बीजेपी ने कहा कि ये महज सुर्खियों में बने रहने के लिए किया जा रहा है.