UP: मछलीशहर के बैंक लूटकांड में पुलिस को मिली बड़ी सफलता, एक आरोपी गिरफ्तार

बीते 16 नवम्बर को दिनदहाड़े तीन नकाबपोश बदमाशों ने एक्सिस बैंक में धावा बोलकर 15 लाख रूपये लूटकर पूरे यूपी में सनसनी फैला दी थी. 

UP: मछलीशहर के बैंक लूटकांड में पुलिस को मिली बड़ी सफलता, एक आरोपी गिरफ्तार
(सांकेतिक तस्वीर)

जौनपुर: जौनपुर के मछलीशहर में हुई बैंक लूटकांड में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. पुलिस ने मछलीशहर एक्सिस बैंक लूटकांड का खुलासा करते हुए एक बदमाश को गिरफ्तार करने का दावा किया है. पुलिस ने आरोपी के पास से लूट के एक लाख बीस हजार रूपये, दो अत्याधुनिक असलहे और भारी मात्रा में कारतूस बरामद किया है. पूछताछ में आरोपी ने गुजरात में हुए दो बैंक लूट समेत जिले में हुए कई लूट में शामिल होना स्वीकार किया है. इसके गैंग में एक महिला भी शामिल है.

दरअसल, बीते 16 नवम्बर को दिनदहाड़े तीन नकाबपोश बदमाशों ने एक्सिस बैंक में धावा बोलकर 15 लाख रूपये लूटकर पूरे यूपी में सनसनी फैला दी थी. इस सनसनीखेज वारदात के बाद से ही पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी थी. एसपी ने बताया कि कल रात में मछलीशहर पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी थी. इसी बीच सूचना मिली कि एक कुख्यात अपराधी मोटर साईकिल द्वारा बधवा बाजार की तरफ से मछलीशहर आ रहा है. सूचना मिलते ही पुलिस ने जमुहर तिराहे के पास घेराबंदी कर ली. 

इसी बीच एक मोटर साईकिल सवार को पुलिस ने रोकने का प्रयास किया. इस पर वह भागने लगा लेकिन, वह पुलिस की घेरेबंदी तोड़ नही पाया. पुलिस उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की. जिसमें उसने अपना नाम अजीत बिन्द उर्फ बाबू लोहार निवासी डगरियांव थाना सिकरारा बताया. तलाशी में उसके पास लूट के एक लाख बीस हजार रूपये, एक देसी पिस्टल 32 बोर तथा एक देसी रिवाल्वर 32 बोर, मोबाईल, मोटर साईकिल और तीन मास्क बरामद हुए हैं.

पूछताछ में उसने बताया कि हमारे गैंग में सचिन बिन्द पुत्र मुन्नी लाल निवासी कटाहित खास थाना मछलीशहर, कमलेश बिन्द पुत्र धनराज निवासी महराजगंज, संतोष यादव निवासी कल्यानपुर थाना महराजगंज, अजहरूद्दीन निवासी नारायनपुर थाना करौदी कला जिला सुल्तानपुर, चांद अली निवासी कान्हापुर थाना मछलीशहर और रेनू यादव उर्फ पारूल पुत्री रामतीरथ निवासी रूद्रपुर थाना बदलापुर शामिल हैं. उसने बताया कि हम लोगों ने 16 फरवरी 2019 को गांधीनगर गुजरात में छत्राल एक्सिस बैंक को लूटा था. उसके बाद 12 मार्च को भारतीय स्टेट बैंक गांधीनगर को लूटा था.