दस महीने से लापता भिखारी लाल, परिजन डीएम कार्यालय के सामने धरने पर बैठे
topStories0hindi1471625

दस महीने से लापता भिखारी लाल, परिजन डीएम कार्यालय के सामने धरने पर बैठे

भिखारी लाल आखिर कहां है. वह जिंदा है या किसी की वारदात का शिकार हो गया. दस महीने से परिवार वालों का रो-रो कर बुरा हाल है.

दस महीने से लापता भिखारी लाल, परिजन डीएम कार्यालय के सामने धरने पर बैठे

शिव कुमार/शाहजहांपुर: शाहजहांपुर में एक बेबस परिवार डीएम कार्यालय के सामने मासूम बच्चों के साथ धरने पर बैठ गया है. महिला का पति पिछले साल भर से लापता है. आरोप है कि महिला के पति की हत्या करके शव को गायब कर दिया गया है. धरने पर बैठा परिवार आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करके पति के शव को बरामद करने की मांग कर रहा है. मामला थाना गढ़िया रंगीन के डभौरा गांव का है, जहां 24 फरवरी 2022 को महिला का पति भिखारी लाल सौच के लिए घर से निकला था. लेकिन वापस नहीं लौटा. परिवार के लोगों ने काफी तलाश की लेकिन उसका कोई पता नहीं चला. परिवार वालों का कहना है कि गांव के ही संतराम, श्याम पाल और बटले नाम के व्यक्ति से खेत को लेकर उनसे विवाद चल रहा था.

न्याय के लिए भटका परिवार
परिजनों का कहना है कि इन्हीं लोगों ने मिलकर उसके पति की हत्या कर शव को गायब कर दिया है. पुलिस में शिकायत देने पर महज गुमशुदगी दर्ज की गई. 10 महीने से ज्यादा का वक्त बीत जाने के बाद भी ना ही आरोपियों की कोई गिरफ्तारी हुई और ना ही परिवार के मुखिया का कोई पता चला. परिजनों का कहना है कि वह पिछले कई महीनों से पुलिस और अधिकारियों के लगातार चक्कर लगा रहे हैं. लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हो रही है. 

यह भी पढ़ें: लेडी इंस्पेक्टर लड़कियों को बताएंगी गुड और बैड टच में अंतर
संदिग्धों से पूछताछ की मांग
परिजनों का कहना है कि लापता भिखारी लाल का जिंदा या मुर्दा होने का पता लगाया जाए. परिवार वालों का यह भी कहना है कि अगर सख्ती से आरोपियों से पूछताछ की जाए तो घटना का खुलासा हो सकता है. फिलहाल अधिकारियों ने मामले में जांच के बाद कार्रवाई के आदेश दिए हैं. अतिरिक्त मजिस्ट्रेट सुशांत श्रीवास्तव के मुताबिक परिजनों द्वारा प्रार्थना पत्र दिया गया है. पुलिस अधीक्षक को अग्रिम कार्रवाई के लिए प्रेषित किया जाएगा.

Trending news