RBI ने फिर किया आगाह, आपको भी सावधान होने की जरूरत

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने देश के नागरिकों को आगाह किया है, यह खबर प्रत्येक व्यक्ति के लिए जाननी बहुत जरूरी है. आरबीआई की तरफ से बताया गया है कि रिजर्व बैंक के नाम पर एक फर्जी वेबसाइट चल रही है.

RBI ने फिर किया आगाह, आपको भी सावधान होने की जरूरत
फर्जी वेबसाइट का लेआउट आरबीआई की आधिकारिक वेबसाइट की तरह है. (file pic)

नई दिल्ली : भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने देश के नागरिकों को आगाह किया है, यह खबर प्रत्येक व्यक्ति के लिए जाननी बहुत जरूरी है. आरबीआई की तरफ से बताया गया है कि रिजर्व बैंक के नाम पर एक फर्जी वेबसाइट चल रही है. इसकी जानकारी ज्यादा से ज्यादा लोगों को होना जरूरी है. आरबीआई की तरफ से फर्जी वेबसाइट का लिंक भी शेयर किया गया है. इस फर्जी वेबसाइट का लुक आरबीआई की असली वेबसाइट की तरह ही है.

फर्जी यूआरएल भी बताया
आरबीआई की तरफ जारी किए गए बयान में कहा गया है 'यह जानकारी में आया है कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की फर्जी वेबसाइट संचालित हो रही है. इस वेबसाइट को किसी अज्ञात व्यक्ति की तरफ से www.indiareserveban.org यूआरएल से बनाया गया है. फर्जी वेबसाइट का लेआउट आरबीआई की आधिकारिक वेबसाइट की तरह है.' आरबीआई की ओर से यह भी कहा गया कि जब भी कोई आरबीआई की वेबसाइट का इस्तेमाल करें तो एक बार अवश्य चेक कर लें.

यह भी पढ़ें : दुनिया के सबसे लोकप्रिय सर्च इंजन Google पर लगा करोड़ों का जुर्माना

चुराई जा सकती हैं आपकी बैंकिंग डिटेल
आरबीआई की फर्जी वेबसाइट के होम पेज पर बैंक वेरीफिकेशन विद ऑनलाइन अकाउंट होल्‍डर्स शीर्षक से प्रोविजन है. ऐसा लगता है कि यह सेक्‍शन बैंक के कस्‍टमर की गोपनीय बैंकिंग और पर्सनल डिटेल हासिल करने के लिए बनाया गया है. इस सेक्शन में आपकी तरफ से कोई भी जानकारी देना आपके लिए खतरनाक हो सकता है.

बैंकिंग डिटेल शेयर न करें
आरबीआई की ओर से जारी चेतावनी में यह भी कहा गया है कि देश के सेंट्रल बैंक के तौर पर स्‍पष्‍ट करता है कि उसके पास किसी का व्यक्तिगत अकाउंट नहीं है और न ही वह किसी से बैंक अकाउंट डिटेल, पासवर्ड जैसे जानकारियां कभी मांगता है. रिजर्व बैंक ने आम लोगों को चेतावनी दी है कि ऐसी वेबसाइट को ऑनलाइन कोई जानकारी देना उनके लिए नुकसानदेह हो सकता है. पर्सनल डिटेल मांगकर ऐसे हैकर्स उनका दुरुपयोग कर सकते हैं.

अगर आपने भी लेमिनेट कराया है 'AADHAAR', तो यह खबर आपकी टेंशन बढ़ा देगी

आपको बता दें कि इससे पहले आरबीआई ने बैंक कस्टमर को सचेत करने के लिए 'सुनो आरबीआई क्या कहता है' प्रोग्राम की शुरुआत की थी. इस प्रोग्राम के तहत आरबीआई यह सुनिश्च‍ित कर रहा है कि आम आदमी के साथ उसके नाम पर धोखाधड़ी न हो. इसके तहत केंद्रीय बैंक ऑनलाइन सेफ ट्रांजेक्शन करने और वित्तीय लेनदेन के दौरान होने वाली धोखाधड़ी से बचने को लेकर जानकारी दी जा रही है. इसके लिए आरबीआई की तरफ से आपके मोबाइल पर मैसेज भेजे जा रहे हैं.

बिजनेस से जुड़ी अन्य खबरों के लिए क्लिक करें

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close