जम्मू कश्मीर: लड़की के साथ बलात्कार के प्रयास मामले में किशोर गिरफ्तार

जम्मू कश्मीर के उधमपुर जिले में चार वर्षीय एक लड़की के साथ बलात्कार करने के प्रयास के मामले में सोमवार एक किशोर को गिरफ्तार किया गया. 

जम्मू कश्मीर: लड़की के साथ बलात्कार के प्रयास मामले में किशोर गिरफ्तार
पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया है.(प्रतीकात्मक तस्वीर)
Play

जम्मू: जम्मू कश्मीर के उधमपुर जिले में चार वर्षीय एक लड़की के साथ बलात्कार करने के प्रयास के मामले में सोमवार एक किशोर को गिरफ्तार किया गया. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि नौवीं कक्षा में पढ़ने वाला एक लड़का बलात्कार के प्रयास के बाद से से छिपा हुआ था. लड़की के किराए के घर में बलात्कार के प्रयास को पड़ोसियों ने विफल कर दिया था. लड़का परिवार को दूध देने गया था और लड़की को अकेला पाकर उसके साथ बलात्कार का प्रयास किया.

हालांकि, लड़की के रोने की आवाज सुन कर पड़ोसी घटनास्थल पर आ गये. अधिकारी ने बताया कि आरोपी धटनास्थल से फरार हो गया और उसे पकड़ने का प्रयास शुरू किया गया. उन्होंने बताया कि दो दिन की तलाशी के बाद सोमवार को लड़के को पकड़ लिया गया. पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया है.  

कठुआ जिले में आठ साल की मासूम के साथ गैंगरेप 
10 जनवरी को बकरवाल समुदाय के एक परिवार की आठ साल की बच्ची अचानक गायब हो गई थी. उसके लापता होने की रिपोर्ट पुलिस में दर्ज करवाई गई थी. चार्जशीट के मुताबिक, आरोपियों ने घोड़े ढूंढने में मदद करने के बहाने लड़की को अगवा कर लिया था. बच्ची को देवीस्थान में बंधक बनाए रखा गया था. उसे बेहोश रखने के लिए नशे की दवाइयां दी गईं. 17 जनवरी को झाड़ियों में बच्ची का शव पाया गया था. मेडिकल जांच में गैंगरेप की पुष्टी हुई. बच्ची का अपहरण कर उसके साथ दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या करने के मामले में मुख्य आरोपी सांजी राम समेत आठ लोगों का आरोपी बनाया गया है.

समुदाय को हटाने की साजिश के तहत वारदात को दिया अंजाम
चार्जशीट में इस बात का खुलासा हुआ है कि बकरवाल समुदाय की बच्ची का अपहरण, बलात्कार और हत्या इलाके से इस अल्पसंख्यक समुदाय को हटाने की एक सोची समझी साजिश का हिस्सा थी. इसमें कठुआ स्थित रासना गांव में देवीस्थान, मंदिर के सेवादार को अपहरण, बलात्कार और हत्या के पीछे मुख्य साजिशकर्ता बताया गया है. सांझी राम के साथ विशेष पुलिस अधिकारी दीपक खजुरिया और सुरेंद्र वर्मा , मित्र परवेश कुमार उर्फ मन्नू , राम का किशोर भतीजा और उसका बेटा विशाल जंगोत्रा उर्फ शम्मा कथित तौर पर शामिल हुए. चार्जशीट में जांच अधिकारी ( आईओ ) हेड कांस्टेबल तिलक राज और उप निरीक्षक आनंद दत्त भी नामजद हैं जिन्होंने राम से कथित तौर पर चार लाख रुपये लिए और अहम सबूत नष्ट किए.

इनपुट भाषा से भी 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close