राहुल गांधी ने कहा- जम्मू कश्मीर में अवसरवादी गठबंधन के कारण सैनिकों का खून बह रहा है

राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर हमला बोलते हुए कहा कि वह कोई निर्णय नहीं कर रहे हैं तथा जम्मू कश्मीर में ‘अवसरवादी’ गठबंधन के कारण सैनिकों को अपना खून बहाना पड़ रहा है.

राहुल गांधी ने कहा- जम्मू कश्मीर में अवसरवादी गठबंधन के कारण सैनिकों का खून बह रहा है
कर्नाटक चुनाव में प्रचार के दौरान राहुल गांधी बीजेपी पर जमकर किया वार (फोटोः एएनआई)

नई दिल्लीः कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को केन्द्र सरकार पर कश्मीर के लिए ‘अस्तित्वहीन’ नीति होने का आरोप लगाया और क्षेत्र में होने वाले रक्तपात के लिए बीजेपी-पीडीपी गठबंधन को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने प्रधानमंत्री पर हमला बोलते हुए कहा कि वह कोई निर्णय नहीं कर रहे हैं तथा जम्मू कश्मीर में ‘अवसरवादी’ गठबंधन के कारण सैनिकों को अपना खून बहाना पड़ रहा है.

राहुल ने ट्वीट कर कहा, ‘‘पीडीपी कह रही है कि पाकिस्तान से बातचीत करो. बीजेपी की रक्षा मंत्री कह रही है कि पाकिस्तान को कीमत चुकानी पड़ेगी. जबकि हमारे सैनिकों को बीजेपी-पीडीपी के अवसरवादी गठबंधन और कश्मीर की अस्तित्वहीन नीति के कारण अपना खून बहाना पड़ रहा है. मोदी जी निर्णय नहीं कर रहे हैं.’’ कांग्रेस पहले भी सरकार पर उसकी कश्मीर नीति और सत्तारूढ़ दल बीजेपी के पीडीपी के साथ गठबंधन को लेकर उस पर हमला बोलती रही है.

 

आपको बता दें कि सोमवार को जम्मू विधानसभा में मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने सेना पर हमलों की घटनाओं की कड़ी निंदा की. उन्होंने कहा कि राज्य में खूनी-खेल को रोकने के लिए पाकिस्तान से बातचीत की जरूरत है. उन्होंने कहा कि उनकी इस बात को लेकर लोग उन्हें देशद्रोही कहेंगे, लेकिन उन्हें इस बात की चिंता नहीं है. 

यह भी पढ़ेंः सुंजवान आतंकी हमलाः 10 महीने पहले कश्मीर में घुस गए थे आतंकी, स्थानीय नागरिक ने की मदद

उन्होंने कहा कि उन्हें चिंता घाटी के लोगों तथा अपने सैनिकों की है. जम्मू-कश्मीर के लोग प्रभावित हो रहे हैं. इसके लिए हमें पाकिस्तान के साथ बात करनी होगी और यही एकमात्र समाधान भी है.

केंद्र ने किया इनकार
महबूबा मुफ्ती की सलाह पर केंद्र सरकार ने कहा कि आतंकवाद और बातचीत, दोनों एकसाथ नहीं हो सकते. केंद्र ने कहा कि हम पाकिस्तान की हर हरकत का मुंह तोड़ जवाब दे रहे हैं. उसकी नापाक चालों के बीच बातचीत का कोई रास्ता बचता ही नहीं है.

यह भी पढ़ेंः कर्नाटक चुनावः राहुल गांधी को रोड शो के दौरान दिखाए गए काले झंडे

सुंजवान में हमला
बता दें कि पिछले कुछ दिनों से आतंकवादी घाटी में सुरक्षाबलों को लगातार निशाना बना रहे हैं. आतंकी संगठन सेना के शिविरों और आवासीय इलाकों में घुसकर हिंसक घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं. इस साल इन घटनाओं में ज्यादा तेजी आई है.  बीते शनिवार को भी जम्मू के सुंजवान इलाके में आर्मी कैंप को आतंकियों ने निशाना बनाया. इस घटना में सेना के 5 जवान शहीद हो गए और एक नागरिक की मौत हो गई. 10 अन्य लोग घायल भी हुए. 

(इनपुट भाषा)

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close