section 377

Section 377: People in the LGBT community are welcomed in these countries

Section 377: इन देशों में LGBT समुदाय के लोगों का खुल कर किया जाता है स्वागत

दुनिया में ऐसे कई शहर हैं जहां समलैंगिकता और LGBT समुदाय के लोगों का खुले दिल से स्वागत किया जाता है. यही नहीं, यहां समलैंगिकता के प्रति लोगों में किसी तरह का भेदभाव भी नहीं है. 

Sep 24, 2018, 10:28 AM IST
समलैंगिक रिश्तों के कानूनी पहलुओं को कैसे करेंगे हल?

समलैंगिक रिश्तों के कानूनी पहलुओं को कैसे करेंगे हल?

मौजूदा कानूनी लड़ाई की शुरुआत भले ही नाज़ फाउंडेशन द्वारा दिसंबर, 2001 में दिल्ली हाईकोर्ट में दाखिल याचिका से शुरू हुई हो लेकिन आईपीसी 377 के खिलाफ पहली याचिका एड्स भेदभाव संगठन ने 1994 में दाखिल की गई थी.

Sep 18, 2018, 10:55 PM IST
भारत के बाद अब सिंगापुर में डिस्क जॉकी ने 'समलैंगिकता' के मामले पर उठाई आवाज

भारत के बाद अब सिंगापुर में डिस्क जॉकी ने 'समलैंगिकता' के मामले पर उठाई आवाज

भारत में समलैंगिकता पर आए सुप्रीम कोर्ट के हालिया ऐतिहासिक फैसले से उत्साहित एक डिस्क जॉकी ने सिंगापुर में गे सेक्स पर रोक को अदालत में चुनौती दी है.

Sep 12, 2018, 05:40 PM IST
समलैंगिकता: मशहूर पिता ने SC के फैसले के बाद 'गे' बेटे के बारे में कहा, 'सिर से बड़ा बोझ उतर गया'

समलैंगिकता: मशहूर पिता ने SC के फैसले के बाद 'गे' बेटे के बारे में कहा, 'सिर से बड़ा बोझ उतर गया'

गुरचरण दास ने लिखा कि हमारी प्राचीन भावना के प्रतिकूल 157 सालों से इस भयानक औपनिवेशिक कानून के दंश को हम लोग सह रहे थे.

Sep 12, 2018, 04:13 PM IST
धारा 377 के तहत दर्ज समलैंगिक संबंध मामलों में UP अव्वल, केरल दूसरे नंबर पर

धारा 377 के तहत दर्ज समलैंगिक संबंध मामलों में UP अव्वल, केरल दूसरे नंबर पर

राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो के अनुसार, 2016 में धारा 377 के तहत समलैंगिक यौन संबंधों के 2,195 मामले दर्ज किए गए जबकि 2015 में 1,347 और 2014 में 1,148 मामले दर्ज किए गए. 

Sep 9, 2018, 07:39 PM IST
राजनेता कई बार जजों को शक्तियां क्‍यों सौंप देते हैं?:  सुप्रीम कोर्ट के जज

राजनेता कई बार जजों को शक्तियां क्‍यों सौंप देते हैं?: सुप्रीम कोर्ट के जज

संवेदनशील मुद्दों पर फैसला अदालत के विवेक पर छोड़ने के सरकार के रुख पर सुप्रीम कोर्ट के एक न्यायाधीश ने निराशा व्यक्त की.

Sep 9, 2018, 08:55 AM IST
सनी लियोनी ने प्राइड बैज में क्लिक कराया फोटो, 'समलैंगिकता' पर दिया ये रिएक्शन

सनी लियोनी ने प्राइड बैज में क्लिक कराया फोटो, 'समलैंगिकता' पर दिया ये रिएक्शन

सनी लियोनी ने इंस्टाग्राम पर अपनी एक फोटो शेयर की और गॉर्जियस लुक में उन्हें प्राइड बैज पहने हुए देखा जा सकता है.

Sep 8, 2018, 12:46 PM IST
SC का फैसला- संसद में कानून के बगैर, LGBT को हक कैसे मिलेगा

SC का फैसला- संसद में कानून के बगैर, LGBT को हक कैसे मिलेगा

धारा 377 रद्द करने के लिए शशि थरूर के प्राईवेट बिल को सिर्फ 14 वोट मिले थे, तो फिर इन अहम् मसलों पर संसद में कानून को कैसे मंजूरी मिलेगी?

Sep 7, 2018, 06:25 PM IST
Section 377 verdict The Lalit Hotels owner Keshav Suri celebrats Supreme Court’s historic judgement

होटल ललित के मालिक ने सेलिब्रेट किया सुप्रीम कोर्ट का फैसला, 'गे पति' के साथ शेयर की फोटो

गे राइट्स के एक्टिविस्ट ललित होटल के मालिक ने 23 अप्रैल को भारतीय दंड संहिता की धारा 377 के मामले में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी. 

Sep 7, 2018, 04:53 PM IST
समलैंगिकता पर 'सुप्रीम फैसले' के बाद अब संवेदनाओं का इंतजार है...

समलैंगिकता पर 'सुप्रीम फैसले' के बाद अब संवेदनाओं का इंतजार है...

महिलाओं की यौनिकता हो या फिर 'अप्राकृतिक' और 'फैशन' मानी जाने वाली समलैंगिकता.. अक्‍सर बिना भावनाओं को समझे, परखे और तौले हम सिरे से इन संवेदनाओं को समाज के विरुद्ध घोषित कर खारिज कर देते हैं.

Sep 7, 2018, 12:22 PM IST
धारा 377: कानून बदल गया, क्या लोगों की सोच भी बदलेगी?

धारा 377: कानून बदल गया, क्या लोगों की सोच भी बदलेगी?

LGBTQ समुदाय को कानून से उनका हक तो मिल गया, लेकिन समाज से सम्मान पाने की लड़ाई अब शुरू हुई है. 

Sep 7, 2018, 10:15 AM IST
समलैंगिकता पर आया फैसला, करण जौहर ने सबसे पहले इस शख्स को दी बधाई

समलैंगिकता पर आया फैसला, करण जौहर ने सबसे पहले इस शख्स को दी बधाई

ऐतिहासिक फैसले में कोर्ट ने कहा कि दो वयस्क आपसी सहमति से संबंध बनाते हैं तो वह अपराध नहीं माना जाएगा.

Sep 7, 2018, 07:00 AM IST
प्रकृति और सांस्कृतिक मूल्यों के खिलाफ है समलैंगिकता : जमीयत उलेमा-ए-हिंद

प्रकृति और सांस्कृतिक मूल्यों के खिलाफ है समलैंगिकता : जमीयत उलेमा-ए-हिंद

जमीयत महासचिव मौलाना महमूद मदनी ने कहा, ‘‘समलैंगिकता प्रकृति, धर्म और भारत के सांस्कृतिक मूल्यों के खिलाफ है. इसको इजाजत नहीं दी जानी चाहिए थी.’’ 

Sep 6, 2018, 10:48 PM IST
वर्ल्ड मीडिया ने समलैंगिक संबंधों पर SC के फैसले का दिल खोलकर किया स्वागत

वर्ल्ड मीडिया ने समलैंगिक संबंधों पर SC के फैसले का दिल खोलकर किया स्वागत

भारत में समलैंगिक यौन संबंधों को अपराध की श्रेणी में रखने वाले औपनिवेशिक कानून को खारिज करने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले का पूरी दुनिया में दिल खोलकर स्वागत हो रहा है. 

Sep 6, 2018, 09:31 PM IST
धारा 377 पर SC का फैसला न्याय के लिए संघर्षरत लोगों के लिए उम्मीद की किरण : एमनेस्टी

धारा 377 पर SC का फैसला न्याय के लिए संघर्षरत लोगों के लिए उम्मीद की किरण : एमनेस्टी

सुप्रीम कोर्ट ने बृहस्पतिवार को आईपीसी की धारा 377 के तहत 158 साल पुराने औपनिवेशिक कानून के एक हिस्से को अपराध की श्रेणी से बाहर कर दिया.

Sep 6, 2018, 07:00 PM IST
VIDEO : समलैंगिकता पर कोर्ट के फैसले से इस होटल का स्टाफ हुआ खुश, जमकर किया डांस

VIDEO : समलैंगिकता पर कोर्ट के फैसले से इस होटल का स्टाफ हुआ खुश, जमकर किया डांस

सुप्रीम कोर्ट ने धारा 377 को मनमाना करार देते हुए व्यक्तिगत पसंद को सम्मान देने की बात कही. कोर्ट ने कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में परिवर्तन जरूरी है.

Sep 6, 2018, 06:49 PM IST
भारत समलैंगिक संबंधों को अपराध नही मानने वाले 25 देशों में शामिल

भारत समलैंगिक संबंधों को अपराध नही मानने वाले 25 देशों में शामिल

दुनियाभर में अब भी 72 ऐसे देश और क्षेत्र हैं जहां समलैंगिक संबंध को अपराध समझा जाता है.

Sep 6, 2018, 06:07 PM IST
संयुक्त राष्ट्र ने समलैंगिकता पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का किया स्वागत

संयुक्त राष्ट्र ने समलैंगिकता पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का किया स्वागत

संयुक्त राष्ट्र ने उम्मीद जताई कि यह फैसला एलजीबीटीआई व्यक्तियों को पूरे मौलिक अधिकारों की गारंटी देने की दिशा में पहला कदम होगा.

Sep 6, 2018, 04:36 PM IST
धारा 377 पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से निराश हुए स्वामी, कहा- अब HIV केस बढ़ेंगे

धारा 377 पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से निराश हुए स्वामी, कहा- अब HIV केस बढ़ेंगे

इस फैसले से देश भर के एलजीबीटी समुदाय जहां सबसे ज्यादा खुश है ताे वहीं भाजपा नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने इस पर निराशा जताई है.

Sep 6, 2018, 03:14 PM IST
समलैंगिकता का कानून 2-4 साल नहीं बल्कि 158 साल पुराना था, जिसे SC ने खत्‍म किया

समलैंगिकता का कानून 2-4 साल नहीं बल्कि 158 साल पुराना था, जिसे SC ने खत्‍म किया

1861 में आईपीसी की धारा 377 अस्तित्‍व में आई.

Sep 6, 2018, 02:17 PM IST

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close