झारखंड चुनाव में 14 पार्टियों को मिले 2 फीसद वोट

वामदलों से ज्यादा वोट असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम (AIMIM) को मिले हैं. पार्टी को एक फीसदी वोट मिला है. बीएसपी (BSP) को उससे ज्यादा 1.38 फीसदी वोट मिला है. लेकिन वह भी नोटा से पार नहीं पा सकी है.

झारखंड चुनाव में 14 पार्टियों को मिले 2 फीसद वोट
14 में सिर्फ 2 पार्टियों को एक फीसदी से अधिक मत मिला है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली: झारखंड विधानसभा चुनाव (Jharkhand assembly election) में 14 से ज्यादा पार्टियां हैं, जिन्हें दो फीसदी से कम वोट मिले हैं. भाकपा, माकपा और ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक मिलकर एक फीसदी वोट भी नहीं पा सकी हैं.

वामदलों से ज्यादा वोट असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम (AIMIM) को मिले हैं. पार्टी को एक फीसदी वोट मिला है. बीएसपी (BSP) को उससे ज्यादा 1.38 फीसदी वोट मिला है. लेकिन वह भी नोटा से पार नहीं पा सकी है.

आम आदमी पार्टी (AAP) को 0.23 फीसदी, तृणमूल कांग्रेस (TMC) को 0.30 फीसदी, बीएलएसपी को 0.01 फीसदी, भाकपा को 0.45 फीसदी, माकपा को 0.34 फीसदी, आईयूएमएल (IUML) को 0.02 फीसदी, जेडीएस (JD(S) को 0.01 फीसदी, जेडीयू (JDU) को 0.79 फीसदी, एलजेपी (LJP) को 0.26 फीसदी, एनसीपी (NCP) को 0.45 फीसदी और एनपीईपी को 0.01 फीसदी वोट मिले. सभी 14 दलों को संयुक्त रूप से 5.29 फीसदी वोट मिले हैं. 

वहीं,1.43 फीसदी मतदाताओं ने नोटा का विकल्प चुना. इन 14 में सिर्फ दो पार्टियों को एक फीसदी से अधिक मत मिला है. जबकि 10 पार्टियों को 0.50 फीसदी से भी कम वोट मिले हैं. 

नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू को 0.79 फीसदी मत मिले. असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलिमीन और मायावती की पार्टी बहुजन समाज पार्टी को एक फीसदी या उससे ज्यादा मत प्राप्त हुए.