AES मामले में नहीं बरती गई कोई कोताही, गरीब परिवार को देंगे पक्का घर : नीतीश कुमार

इस मामले पर बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि मैं इस पर कोई राजनीति करना नहीं चाहता हूं. साथ ही उन्होंने इस बात को स्वीकार किया कि प्रदेश में डॉक्टरों की भारी कमी है.

AES मामले में नहीं बरती गई कोई कोताही, गरीब परिवार को देंगे पक्का घर : नीतीश कुमार
नीतीश कुमार ने आज बिहार विधान परिषद में सरकार का पक्ष रखा. (फाइल फोटो)

पटना : बिहार विधान परिषद में आज बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने चमकी बुखार से मुजफ्फरपुर सहित अन्य जिलों में हुई बच्चों की मौत पर सरकार का पक्ष रखा. सीएम ने कहा कि हमारी सरकार की तरफ से कोई कोताही नहीं बरती गई. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि इस घटना के बाद राज्य में सामाजिक और आर्थिक सर्वेक्षण करवाया जा रहा है.

नीतीश कुमार ने सदन में कहा कि ज्यादातर गरीब परिवार के बच्चों की जान गई है. उन्होंने कहा कि हम पक्का मकान बनाने के लिए गरीब परिवार की मदद करेंगे. हर परिवार को सरकारी मदद दी जाएगी.

वहीं, इस मामले पर बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि मैं इस पर कोई राजनीति करना नहीं चाहता हूं. साथ ही उन्होंने इस बात को स्वीकार किया कि प्रदेश में डॉक्टरों की भारी कमी है. उन्होंने कहा कि जल्द ही डॉक्टरों की नियुक्ति होगी. साथ ही पुरुष हेल्थ एजुकेटर बहाल करने पर विचार करने की बात भी कही.

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि चिकित्सकों की बहाली चयन आयोग के तहत होगी. बीपीएससी के बदले आयोग के तहत अब बहाली होगी.