पप्पू यादव के बिगड़े बोल, सांसद से पूछी उपलब्धि तो युवक और पिता को सरेआम किया अपमानित

पप्पू यादव हमेशा युवाओं के साथ की बात करते हैं, लेकिन उन्हीं युवकों में से एक ने जब उनसे उनकी उपलब्धि पर सवाल कर दिया तो वह आग बबूला हो गए. 

पप्पू यादव के बिगड़े बोल, सांसद से पूछी उपलब्धि तो युवक और पिता को सरेआम किया अपमानित
पप्पू यादव ने एक युवक को सरेआम अपमानित किया है.

सहरसाः बिहार में मधेपुरा के सांसद पप्पू यादव अपने बिगड़े बोल के लिए जाने जाते हैं. लोकसभा चुनाव नजदीक है ऐसे में वह क्षेत्र में घुमकर लोगों से मिल रहे हैं. कई कार्यक्रमों में शामिल हो रहे हैं. लेकिन उन्होंने उसी सार्वजनिक स्थान पर एक युवक को और उसके पिता को सरेआम अपमानित कर दिया. उसकी गलती यह थी कि युवक ने पप्पू यादव से पूछ बैठा उनकी उपलब्धि क्या है.

पप्पू यादव हमेशा युवाओं के साथ की बात करते हैं, लेकिन उन्हीं युवकों में से एक ने जब उनसे उनकी उपलब्धि पर सवाल कर दिया तो वह आग बबूला हो गए. इतना ही नहीं उस युवक की जाति पूछकर उसे और उसके पिता को सरेआम अपमानित कर दिया.

दरअसल, सासंद पप्पू यादव सहरसा स्टेडियम में एक क्रिकेट टूर्नामेंट का उद्घाटन करने पहुंचे थे. इसी दौरान भीड़ में एक युवक ने सांसद से उनकी साढ़े चार साल की उपलब्धि पूछ दी. इस सवाल के पूछे जाने पर पप्पू यादव ने पहले उसकी जाति पूछ दी. उन्होंने कहा कि इसने उपलब्धि पूछकर अपनी जाति बता दी है.

पप्पू यादव यही नहीं रूके उन्होंने युवक को कहा 'पहले अपनी उपलब्धि और अपने बाप की उपलब्धि पता कर लें, तब दूसरों की उपलब्धि के बारे में पूछें.' सांसद ने यह भी कहा कि 'जितना उसका वजन है उतना पैसा मैं रोज गरीबों को बांटता हूं.'

वहीं, पप्पू यादव की इस तरह के बिगड़े बोल और सरेआम अपमान के बाद युवक काफी आहत है. उसका कहना है कि एक सांसद उनसे इस तरह की बात करेंगे उन्हें उम्मीद नहीं थी. युवक ने कहा मेरे साथ मेरे पिता को भी सरेआम अपमानित किया गया.

सवाल यह है कि एक सांसद होकर पप्पू यादव एक बार फिर अपनी दबंगई का उदाहरण दिया है. एक उपलब्धि पूछे जाने पर युवक के प्रति उनका इतना गुस्सा बढ़ गया कि उन्होंने सार्वजनिक रूप से युवक को अपमानित कर दिया. इससे भी शर्म की बात यह है कि उन्होंने युवक के पिता का नाम लेकर और जाति सूचक शब्द उपयोग कर अपमानित किया.

आपको बता दें कि हाल ही में पप्पू यादव ने बिहार के कई बड़े नेताओं के खिलाफ विवादित शब्द का उपयोग किया था.

(रिपोर्टः विशाल कुमार)