Bihar Panchayat election: वोटर लिस्ट में नाम जुड़वाने का आखिरी मौका, निर्वाचन आयोग ने तेज की तैयारी

चुनाव आयोग (Election Commission) ने पहले ही तय कर लिया है कि पंचायत चुनाव (Panchayat Election) के लिए वोटर लिस्ट का प्रकाशन 24 फरवरी 2021 तक करना है. चुनाव नजदीक आता देख राज्य निर्वाचन आयोग ने भी इसकी तैयारी तेज कर दी.

Bihar Panchayat election: वोटर लिस्ट में नाम जुड़वाने का आखिरी मौका, निर्वाचन आयोग ने तेज की तैयारी
बिहार पंचायत चुनाव में वोटर लिस्ट में नाम सुधरवाने का आखिरी मौका

Patna: बिहार में पंचायत इलेक्शन (Bihar Panchayat Election) की सुगबुगाहट शुरू हो चुकी है. इसे लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में लोग काफी उत्साहित हैं. पांच साल के बाद होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत इलेक्शन को लेकर ग्रामीण इलाके में सरगर्मी तेज हो गई है. लोग वोटर लिस्ट (Voter List) में नाम सुधरवाने और जोड़ने के लिए अभी से विशेष जोर लगा रहे हैं.  

चुनाव आयोग (Election Commission) ने पहले ही तय कर लिया है कि पंचायत चुनाव (Panchayat Election) के लिए वोटर लिस्ट का प्रकाशन 24 फरवरी 2021 तक करना है. चुनाव नजदीक आता देख राज्य निर्वाचन आयोग ने भी इसकी तैयारी तेज कर दी है.

यह भी पढ़ें - Bihar Panchayat Election 2021 Update: EC ने दिया अल्टीमेटम, कहा-19 फरवरी तक निपटाएं शिकायतें

दावा-आपत्ति का निराकरण 20 जनवरी से 8 फरवरी तक किया जाना तय था, लेकिन अभी भी हर दिन 25-30 आवेदन निर्वाचन आयोग में आ रहे हैं.
पंचायत चुनाव नजदीक आते ही लोगों के तरफ से तीन तरह के आवेदन सबसे ज्यादा आ रहे हैं.

पहला- मतदाता सूची में गड़बड़ी को ठीक करवाने लिए.
दूसरा- लोग बूथ में हुए बदलाव को ठीक करवाने के लिए आते हैं.
तीसरा- इसमें लोग आरक्षित सीटों में बदलाव की मांग के लिए आवेदन करते हैं.  

ये आपत्ति डाक और मेल से भी आ रहे हैं. वहीं लोग आवेदन लेकर राज्य के इलेक्शन कमीशन (Election Commission) ऑफिस भी पहुंच रहे हैं. इन आवेदनों को डायरी पर चढ़ाया जा रहा है, फिर कमिश्नर से लेकर बाकी अफसरों तक भेजा जा रहा है. इससे जुड़ा पत्र तैयार कर DM के पास भी भेजा जा रहा है. यहां आने वाले लोग मतदाताओं के नाम में हेराफेरी का भी आरोप लगा रहें है.

यह भी पढ़ें - Bihar Panchayat Chunav 2021: EC ने बनाया हाईटेक कंट्रोल रूम, शिकायत-सुझाव के लिए टोल फ्री नंबर जारी 

ऐसा ही शिकायत लेकर शुक्रवार को पटना जिले के धनरुआ थाने  के कुछ लोग राज्य इलेक्शन कमीशन (Election Commission) ऑफिस पहुंचे. पटना जिले के धनरुआ प्रखंड की मई नेतौल पंचायत के दत्तमई ग्राम के वार्ड संख्या 12,13,14 की मतदाता सूची के प्रारूप प्रकाशन में जान-बूझकर या किसी से प्रभावित होकर मतदाताओं के नाम में हेरफेर करने का आरोप पवन कुमार ने लगाया है.

उनका कहना है कि कई नामों को हटा दिया गया है. पत्र के माध्यम से उन्होनें मांग किया है कि पूर्व की तरह वोटर लिस्ट (Voter List) का प्रकाशन किया जाए. जो लोग ऑनलाइन वोटर (Online Voter) बने हैं उनका भी नाम जोड़कर जल्द प्रकाशित किया जाए. आयोग ने आवेदन प्राप्त कर लिया  है. आयोग का कहना है कि प्राप्त आवेदन की जांच की जाएगी.

बताते चलें कि मतदान केन्द्रों के लिस्ट का अंतिम प्रकाशन 2 मार्च को होना है. आयोग ने मतदान केन्द्र को लेकर सूची (लिस्ट) का प्रारूप प्रकाशन और दावे-आपत्तियों की प्राप्ति 28 जनवरी 2021 से 11 फरवरी 2021 तक का समय निर्धारित किया है. उम्मीद है सही समय आने तक आयोग राज्य चुनाव आयोग सुचारू रूप से चुनाव करवाने में कामयाब रहेगी.