मांझी से वैचारिक मतभेद के बाद वृषण पटेल का विचार कुशवाहा से मिला, ज्वाइन करेंगे RLSP

हम के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष वृषण पटेल उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी आरएलएसपी ज्वाइन करने वाले हैं.

मांझी से वैचारिक मतभेद के बाद वृषण पटेल का विचार कुशवाहा से मिला, ज्वाइन करेंगे RLSP
वृषण पटेल आरएलएसपी में शामिल होंगे.

पटनाः बिहार महागठबंधन के सहयोगी दल हम के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष वृषण पटेल ने आरएलएसपी ज्वाइन करने का मन बना लिया है. पटेल ने मांझी से वैचारिक मतभेद के बाद पार्टी से इस्तीफा दे दिया था. लेकिन अब उनका विचार उपेंद्र कुशवाहा से मिलने लगा है. इसलिए उन्होंने आरएलएसपी पार्टी ज्वाइन करने का फैसला किया है. बता दें कि आरएलएसपी भी महागठबंधन का ही सहयोगी दल है.

वृषण पटेल ने कहा है कि उन्होंने पहले ही कहा था कि वह एनडीए के साथ नहीं जाएंगे. हम से इस्तीफा देने के बाद भी उन्होंने महागठबंधन के साथ बने रहने की बात कही थी. उन्होंने कहा कि आरएलएसपी से मेरे विचार मिल रहे हैं. इसलिए वह आरएलएसपी ज्वाइन करेंगे.

वहीं, उन्होंने कहा कि मांझी महागठबंधन का हिस्सा है, इसलिए जरूरत पड़ी तो वह उनका साथ देंगे. क्योंकि हमारा लक्ष्य महागठबंधन को जिताना है इसलिए हमारा फर्ज है कि मांझी को भी महागठबंधन के अन्य नेताओं की तरह सपोर्ट करें.

उन्होंने कहा कि मांझी से हमारी व्यक्तिगत बाते थी. उनके बयानों का हम विरोध कर रहे थे. मेरा मानना था कि वह महागठबंधन धर्म का पालन नहीं कर रहे हैं. ऐसे में उनके साथ रहना मुश्किल हो गया था. हालांकि अब वह महागठबंधन में है लेकिन अब मैं आरएलएसपी के साथ काम करना चाहता हूं.

बता दें कि सीट शेयरिंग को लेकर मांझी ने महागठबंधन के सहयोगी दलों के खिलाफ बयान दिया था. साथ ही कांग्रेस की रैली को लेकर भी हम पार्टी के प्रवक्ता ने विवादित बयान दिया था. वहीं, मांझी भी टिकट को लेकर कांग्रेस के खिलाफ बयान दे रहे थे. ऐसे में वृषण पटेल ने मांझी के बयानों का विरोध किया. हालांकि मांझी और वृषण पटेल के बीच अंदरूनी कई मतभेदों की चर्चा है.

अब वृषण पटेल आरएलएसपी में शामिल होने जा रहे हैं. माना जा रहा है कि उन्हें उपेंद्र कुशवाहा आरएलएसपी में कोई बड़ी जिम्मेदारी दे सकते हैं.