गया: CM नीतीश ने राजनाथ सिंह को ऑफिसर ट्रेनिंग अकादमी के लिए लिखा पत्र

सीएम ने कहा कि मैं गया आया, तो हमें समाचार पत्र से सूचना मिली कि ट्रेनिंग अकादमी को गया से बाहर ले जाने की योजना है. इसके बाद हमने राजनाथ सिंह को पत्र लिखा और हम उनसे मुलाकात करके इस संबंध में बात भी करेंगे.

गया: CM नीतीश ने राजनाथ सिंह को ऑफिसर ट्रेनिंग अकादमी के लिए लिखा पत्र
सीएम नीतीश ने ओटीए के लिए रक्षा मंत्री को पत्र लिखा है. (फाइल फोटो)

गया: आर्मी की ऑफिसर ट्रेनिंग अकादमी गया में ही रहे. इसका और विकास हो, इसको लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कमार (Nitish Kumar) खुल कर सामने आ गए है. उन्होंने ट्रेनिंग अकादमी को गया के सम्मान से जोड़ दिया है.

मुख्यमंत्री ने इसको लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) को पत्र लिखा है और वो इसको लेकर रक्षा मंत्री से मुलाकात भी करेंगे. गांधी मैदान में आोजित सम्मेलन के दौरान मुख्यमंत्री ने आर्मी ऑफिसर ट्रेनिंग अकादमी का जिक्र किया और कहा कि यहां पहले आर्मी सर्विस कॉप (ASC) चलता था, लेकिन हमारी सरकार बनी, तो सूचना मिली कि उसे बंद किया जा रहा है, तब हमने तत्कालीन रक्षा मंत्री को पत्र लिखा था.

2009 की बात है, तब केंद्र की ओर से कहा गया था कि गया में आर्मी ऑफिसर ट्रेनिंग अकादमी खोलेंगे. 2011 में ये अकादमी खुल गई. यहां देश ही नहीं विदेश तक के आर्मी अफसर ट्रेनिंग करते हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं गया आया, तो हमें समाचार पत्र से सूचना मिली कि ट्रेनिंग अकादमी को गया से बाहर ले जाने की योजना है. इसके बाद हमने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखा और हम उनसे मुलाकात करके इस संबंध में बात भी करेंगे.

मुख्यमंत्री ने रक्षा मंत्री को जो पत्र लिखा है, उसमें गया की महत्ता का जिक्र किया है और सुरक्षा की दृष्टि से कैसे ये इलाका संवेदनशील है, उसका जिक्र भी किया है. मुख्यमंत्री ने लिखा है कि अगर ट्रेनिंग सेंटर में ऑफिसर्स की कमी है, तो सरकार को इस बात पर विचार करना चाहिए कि कैसे इसे बेहतर किया जाए और उसके लिए प्रयास किए जाने चाहिए.

उन्होंने आगे लिखा है कि रक्षा मंत्रालय का अकादमी को बंद करने का फैसला बिहार की जनता के मानस के खिलाफ है, जो राज्य के साथ अन्याय से कम नहीं होगा.