close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चाईबासा: सरकार ने शुरू किया जल शक्ति अभियान, बड़े पैमाने पर पौधारोपण शुरू

सरकार ने जल शक्ति अभियान चलाया और बडे पैमाने पर पौधारोपण कार्यक्रम शुरू किया. तो कोल्हान के लोगों ने केंद्र सरकार के इस पहल का न सिर्फ जोरदार स्वागत कर रहे हैं, बल्कि इसमें शामिल होकर जल और जंगल बचाने में जुट गए हैं. 

चाईबासा: सरकार ने शुरू किया जल शक्ति अभियान, बड़े पैमाने पर पौधारोपण शुरू
पौधारोपण कार्यक्रम का उद्घाटन कांग्रेस के सांसद गीता कोड़ा और झामुमो विधायक दीपक विरूआ ने पेड़ लगाकर किया. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

चाईबासा: झारखंड के लोगों का जल,जंगल और जमीन का मु्द्दा हमेशा सबसे पहले रहा है. कोल्हान तो खासतौर पर जल, जंगल और जमीन के संधर्ष के लिए जाना जाता है. अब जब सरकार ने जल शक्ति अभियान चलाया और बडे पैमाने पर पौधारोपण कार्यक्रम शुरू किया. तो कोल्हान के लोगों ने केंद्र सरकार के इस पहल का न सिर्फ जोरदार स्वागत कर रहे हैं, बल्कि इसमें शामिल होकर जल और जंगल बचाने में जुट गए हैं. 

सबसे केंद्र सरकार के जल शक्ति और वृहद पैमाने पर पेड़ लगाने के मुहिम की विपक्षी दल के सांसद-विधायक भी खुल कर प्रशंसा कर रहे हैं. चाईबासा के कुजू नदी के किनारे चाईबासा वन प्रमंडल द्वारा आयोजित नदी महोत्सव और पौधारोपण कार्यक्रम का उद्घाटन कांग्रेस के सांसद गीता कोड़ा और झामुमो विधायक दीपक विरूआ ने पेड़ लगाकर किया.

इस मौके पर एसपी इंद्रजीत महथा, विभिन्न राजमीतिक दलों के नेता कार्यकर्ता, वन विभाग और सीआरपीएफ के अधिकारी सहित स्कूली बच्चों ने पेड़ लगाए. नदी महोत्सव को संबोधित करते हुए कांग्रेस सांसद गीता कोडा ने सरकार की इस पहल की प्रशंसा करते कहा कि जल और जंगल को बचाने के लिए जनांदोलन करने की जरूरत है. 

सभी को इससे जुड़ना चाहिए, जब तक पेड़ नहीं लगेंगे,तब तक जल का संरक्षण करना संभव नहीं है. इसलिए सरकार का नदी के किनारे पौधारोपण का कार्यक्रम सराहनीय है. जेएमएम विधायक दीपक विरूआ ने भी सरकार के इस पहल की जम कर सराहना करते कहा कि झामुमो का नारा ही जंल, जंगल और जमीन बचाने का रहा है. इसलिए सरकार के इस पहल में हम सभी साथ हैं. विधायक ने कहा कि यदि हम जंल-जंगल नहीं बचाए तो आने पीढ़ी को पानी भी खरीदना पडेगा.