close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

RSS पत्र मामले में गृह विभाग ने मांगा जवाब, ADG ने कहा- 'SP बताएंगे ये मामला बाहर कैसे आया'

 बिहार के गृह विभाग ने एडीजी विशेष शाखा से आरएसएस जांच प्रकरण मामले में स्पष्टीकरण मांगा है कि कि सरकार से राय लिए बिना क्यों पत्र लिखा गया.

 RSS पत्र मामले में गृह विभाग ने मांगा जवाब, ADG ने कहा- 'SP बताएंगे ये मामला बाहर कैसे आया'
राष्ट्रीय सेवक संघ पर विशेष शाखा द्वारा जांच करवाने का मुद्दा अब बढ़ता जा रहा है.

पटना: राष्ट्रीय सेवक संघ पर विशेष शाखा द्वारा जांच करवाने का मुद्दा अब बढ़ता जा रहा है. बिहार के गृह विभाग ने एडीजी विशेष शाखा से आरएसएस जांच प्रकरण मामले में स्पष्टीकरण मांगा है कि कि सरकार से राय लिए बिना क्यों पत्र लिखा गया.

वहीं, एडीजी (स्पेशल ब्रांच) जेएस गंगवार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा है कि आरएसएस नेताओं पर खतरा था इसलिए पत्र भेजा गया. पत्र की जांच की गई है और यह पुलिस अधीक्षक के स्तर पर भेजा गया है. साथ ही उन्होंने कहा कि हम एसपी से जवाब मांगेगे कि इतने गंभीर मुद्दे को पब्लिक मैटर में क्यों लाया गया. एसपी फिलहाल पुलिस अकादमी ट्रेनिंग में हैं लेकिन उन्हें बुलाकर बात की जाएगी. 

 

आपको बता दें कि  बिहार सरकार की ओर से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और उसके सहयोगी संगठनों को लेकर बिहार सरकार के विशेष शाखा द्वारा एक चिट्ठी जारी की गई है, जिस पर अब मामला गरमाता जा रहा है. चिट्ठी को लेकर राजनीति शुरू हो गई है. सियासी दल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साध रहे हैं. वहीं. जनता दल युनाइटेड (जेडीयू) के नेताओं को जवाब देते नहीं बन रहा है. इससे इतर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी), आरएसएस को देश का सबसे अच्छा संगठन बता रही है. 

चिट्ठी में आरएसएस और उससे जुड़े 19 संगठनों के बारे में जानकारी जुटाने और मुख्यालय को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया. 28 मई को जारी इस चिट्ठी पर तीन जून को अमल करने का निर्देश जारी किया गया था.