close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तमिलनाडु में बिहार के सात युवकों को बनाया गया बंधक, फरार लड़के ने की पुलिस से शिकायत

कैमूर जिले के भभुआ थाना क्षेत्र के अखलासपुर गांव के 7 लड़कों को मजदूरी कराने के बहाने तमिलनाडु में बंधक बनाए जाने का मामला सामने आया है. 

तमिलनाडु में बिहार के सात युवकों को बनाया गया बंधक, फरार लड़के ने की पुलिस से शिकायत
कैमूर के सात युवकों को तमिलनाडु में बंधक बनाया गया.

मुकुल जायसवाल/कैमूरः बिहार के कैमूर जिले के भभुआ थाना क्षेत्र के अखलासपुर गांव के 7 लड़कों को मजदूरी कराने के बहाने तमिलनाडु में बंधक बनाए जाने का मामला सामने आया है. यह सूचना पुलिस को तब मिली जब एक लड़का वहां से भागकर कैमूर पहुंचा था.

अखलासपुर गांव के कई युवक राज्य के बाहर कमाने जाते हैं. वहीं, एक लड़के ने एसपी के पास शिकायत दर्ज कराई की उसे और अन्य सात को तमिलनाडु में बंधक बनाया गया था. लेकिन वह किसी तरह वहां से भाग निकला.

कैमूर एसपी ने लड़के की बात को संज्ञान में लेते हुए लेबर इंस्पेक्टर के साथ पुलिस विभाग की टीम को तमिलनाडु भेजने की बात कही है. 

पीड़ित ने बताया हम लोगों को साबुन फैक्ट्री में काम कराने के लिए यूपी के चंदौली का एक ठेकेदार लेकर गया था. लेकिन वहां सीट फुल हो जाने के कारण लोहे के पाइप की फैक्ट्री में काम कराने ले गया. जहां काम करने से मना करने पर हमलोगों की पिटाई की गई.

हम सभी लड़कों को मारपीट कर जबरन काम कराया जाने लगा. उसने बताया एक बार भागने का प्रयास किया तो पकड़ा गया उन लोगों ने बहुत पीटा और धमकी दी. लेकिन एक दिन मुझे वहां से भागने का मौका मिला और मैं वहां से फरार हो गया. किसी तरह मैं गांव पहुंचा हूं. अन्य सभी लोग अभी भी उनके चंगुल में ही हैं.