close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

धारा 370 पर बीजेपी-जेडीयू में तनातनी, नीतीश की पार्टी बोली-आज इतिहास का काला दिन

JDU के वरिष्ठ मंत्री और राष्ट्रीय प्रवक्ता श्याम रज़क ने  कहा आज जो हुआ  वह लोकतंत्र का गला घोंटने की कोशिश की गई है. इतिहास में आज का दिन काला दिन के रूप में माना जाएगा.

धारा 370 पर बीजेपी-जेडीयू में तनातनी, नीतीश की पार्टी बोली-आज इतिहास का काला दिन
File Photo: PTI

नई दिल्‍ली: एक तरफ़ जहां BJP हाईकमान और कार्यकर्ता धारा 370 हटाने के लिए उपलब्ध में खुशियां मना रहे हैं.  वहीं दूसरी तरफ़ एनडीए की प्रमुख सहयोगी जनता दल यूनाइटेड नाराज़गी ज़ाहिर कर रही है. उसने बड़े ही तल्ख़ अंदाज़ में कहा है कि ये इतिहास का काला दिन है.

JDU के वरिष्ठ मंत्री और राष्ट्रीय प्रवक्ता श्याम रज़क ने  जी मीडिया से ख़ास बातचीत में तल्ख अंदाज़ में कहा आज जो हुआ  वह लोकतंत्र का गला घोंटने की कोशिश की गई है. इतिहास में आज का दिन काला दिन के रूप में माना जाएगा.

श्याम रज़क  यहीं नहीं रुके. उन्होंने कहा कि ये जो एजेंडा BJP लागू कर रही है. यह एजेंडा NDA का नहीं है. ये एजेंडा सिर्फ़ और सिर्फ़ BJP और संघ का है. रजक ने कहा कि NDA की एक प्रमुख सहयोगी होने के नाते हमें ये उम्मीद थी कि कोई भी बड़ा फ़ैसला लेने से पहले NDA में एक राय ली जाएगी. सभी की रायशुमारी के बाद फ़ैसला लिया जाएगा. लेकिन ऐसा बिलकुल नहीं हुआ, क्योंकि BJP को ये ज़रूरी नहीं लगता है.

श्याम रजक के बाद केसी त्यागी ने भी केन्द्र पर सवाल‍िया अंदाज़ मे कहा कि हमारी बात बरकरार रहेगी. उन्होंने कहा कि हमारा इतिहास हमें ये गवाही नहीं देता कि हम धारा 370 और अनुच्छेद 35एक का समर्थन करें क्योंकि हम जयप्रकाश नारायण के अनुआयी हैं. जयप्रकाश नारायण ने हमेशा कश्मीर में धारा 370 बनाए रखने की वकालत की थी.

के सी त्यागी ने कहा अटल बिहारी वाजपेयी के समय रक्षा मंत्री जॉर्ज फ़र्नान्डिस ने भी साफ़ साफ़ कहा था की धारा 370 नहीं हटायी जा सकती और न ही हटायी जानी चाहिए. इसलिए हमारा पुरज़ोर तरीक़े से विरोध है. यह सरकार 370 पर जल्दबाज़ी कर रही है.

JDU के साथ कोई और खड़ा हो ना हो लेकिन कांग्रेस पार्टी पुरज़ोर तरीक़े से खड़ी है. कांग्रेस पार्टी के नेता और पूर्व गृह मंत्री सुबोध कांत सहाय ने केंद्र सरकार की जमकर क्लास लगायी. उन्‍होंने कहा कि डॉक्टर अली जिन्ना की रुह को बड़ी ख़ुशी मिली होगी और वह नरेंद्र मोदी और अमित शाह को दिल से दुआ दे रहे होंगे.

जिन्ना का ही एजेंडा था टू नेशन और आज उसको लागू किया मोदी और शाह की जोड़ी ने. यह पहली बार हुआ है कि किसी राज्य को केंद्र शासित प्रदेश में बदल दिया गया हो और केन्द्र शासित प्रदेश को राज्य में तब्दील किया जाए.

ये केन्द्र सरकार विरोधियों से कह रही है साथ आओ वरना मिट जाओ. इसलिए बहुजन समाज पार्टी समाजवादी पार्टी और आम आदमी पार्टी ने भी इस बिल का समर्थन किया.