झारखंड: पूर्व सीएम दास बोले- BJP विधायक अपने वेतन का 30 फीसदी PM केयर में करेंगे जमा

उन्होंने कहा कि झारखंड में कोरोना के मामले कम हैं, ऐसा नहीं सोचना चाहिए. जिस संजीदगी के साथ राज्य सरकार को कार्य करना चाहिए ऐसा काम नहीं हो रहा है. ऐसे में बीजेपी कार्यकर्ता की जिम्मेदारी और भी ज्यादा बढ़ जाती है. 

झारखंड: पूर्व सीएम दास बोले- BJP विधायक अपने वेतन का 30 फीसदी PM केयर में करेंगे जमा
झारखंड: पूर्व सीएम दास बोले- BJP विधायक अपने वेतन का 30 फीसदी PM केयर में करेंगे जमा. (फाइल फोटो)

रांची: झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुबर दास ने कहा कि कोरोना जैसी महामारी के दौरान बीजेपी के प्रदेश स्तर के पदाधिकारी से लेकर बूथ स्तर तक के कार्यकर्ता जो सामाजिक कार्य कर रहे हैं, इसके लिए सभी को साधुवाद. 

उन्होंने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के दिए गए लक्ष्य को पूरा करते हुए पार्टी का हर एक कार्यकर्ता गरीब और जरूरतमंद तक अपनी सेवा दे रहा है. ऐसा कर बीजेपी का हर कार्यकर्ता अपने सामाजिक दायित्व का निर्वहन कर रहा है, यही हमारा मूल मंत्र भी है. 

रघुबर दास ने कहा कि वे कोरोना को लेकर बीजेपी के झारखंड प्रदेश के पदाधिकारियों, जिला अध्यक्षों, सांसद, विधायकों के साथ हो रही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में बोल रहे थे. 

उन्होंने कहा कि झारखंड में कोरोना के मामले कम हैं, ऐसा नहीं सोचना चाहिए. जिस संजीदगी के साथ राज्य सरकार को कार्य करना चाहिए ऐसा काम नहीं हो रहा है. ऐसे में बीजेपी कार्यकर्ता की जिम्मेदारी और भी ज्यादा बढ़ जाती है. 

बीजेपी नेता ने कहा कि हम सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए समाज के हर तबके तक सहायता पहुंचाएं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हर गरीब तक सहायता पहुंचाने का जो आह्वान किया है, उसका हमें लॉकडाउन तक पूरी निष्ठा के साथ पालन करना है. 

पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सुझाव दिया कि जिस प्रकार देश के सांसद पीएम केयर में अपनी सैलरी का सहयोग दे रहे हैं. उसी प्रकार झारखंड में भी बीजेपी विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने जो पहल की है, उस पर उसका पालन करते हुए बीजेपी के सभी विधायक अपनी तनख्वाह का 30% राशि पीएम केयर में सहयोग देंगे. 

सभी सांसद व विधायक गण अपने-अपने क्षेत्र में कोरोना के खिलाफ काफी अच्छा काम कर रहे हैं. फिर भी हमें झारखंड में आने वाले समय में जो दिख रहा है कि यह बीमारी भयावह रूप ना ले, हमें और सजग होकर काम करने जरूरत है.