झारखंडः आज हो सकता है महागठबंधन में सीट शेयरिंग का ऐलान, बगावती सुर में दिख रही है RJD
Advertisement

झारखंडः आज हो सकता है महागठबंधन में सीट शेयरिंग का ऐलान, बगावती सुर में दिख रही है RJD

झारखंड महागठबंधन में रविवार को सीट शेयरिंग का ऐलान किया जा सकता है.

झारखंड में महागठबंधन की सीट शेयरिंग का ऐलान हो सकता है. (फाइल फोटो)

रांचीः झारखंड महागठबंधन में सीट शेयरिंग का ऐलान आज हो सकता है. लेकिन आरजेडी की ओर से बगावत के सुर को देखकर ऐलान रोके जाने की भी संभावना जताई जा रही है. हालांकि कांग्रेस और जेएमएम का कहना है कि रविवार को सीट शेयरिंग का ऐलान किया जाएगा. बता दें कि रविवार को 3 बजे शिबू सोरेन के आवास से सीट शेयरिंग का ऐलान किया जाएगा. लेकिन आरजेडी ने शनिवार देर रात बगावती सुर के साथ 2 सीट की मांग की है. जबकि आरजेडी को एक सीट दिए जाने की बात है.

कांग्रेस का कहना है कि रविवार को हर हाल में सीट शेयरिंग का ऐलान किया जाएगा, और जो तय किया गया उसी का ऐलान किया जाएगा. कांग्रेस का कहना है कि महागठबंधन में सभी त्याग के साथ एकजुट हो रहे हैं. इसलिए सभी को त्याग करना जरूरी है.

रविवार दोपहर 3 बजे शिबू सोरेन के आवास पर सीट शेयरिंग का ऐलान किया जाएगा. लेकिन इससे पहले शनिवार देर रात जेवीएम प्रमुख बाबूलाल मरांडी के आवास पर डिनर का आयोजन किया गया था. जिसमें आरजेडी नेता भी शामिल हुए थे. इस दौरान आरजेडी ने झारखंड में दो सीट की मांग रखी. साथ ही कहा अगर उन्हें दो सीट नहीं दी जाती है तो वह एक अन्य सीट पर फ्रैंडली फाइट करेंगे. यानी कि महागठबंधन की एक सीट के अलावा वह एक और सीट पर अपने उम्मीदवार उतारेंगे.

आरजेडी के इस मांग के बाद मान मनौवल का दौर शुरू हो गया. लेकिन आरजेडी एक सीट पर तैयार हुई है या नहीं इसकी जानकारी नहीं मिली है. लेकिन इस दौरान रविवार को सीट शेयरिंग की घोषणा की बात भी कही गई. कांग्रेस का कहना है कि आरजेडी को एक सीट दी जाएगी और इसमें लालू यादव को तय करना है कि वह उनकी पार्टी के उम्मीदवार पलामू से लड़ेंगे या चतरा से लड़ेंगे. हालांकि आरजेडी इन दोनों सीटों की मांग कर रहा है.

ऐसे में साफ है कि महागठबंधन में आरजेडी के बगावती सुर सामने आ गई है. जिससे एक बार फिर सीट शेयरिंग पर पेंच फंस सकता है. इससे पहले वामदल को लेकर भी पेंच फंसा था. जिसमें वामदल द्वारा हजारीबाग सीट की मांग की थी. लेकिन कांग्रेस हजारीबाग सीट पर समझौता नहीं करना चाहती है. ऐसे में सभी को सीट शेयरिंग का ऐलान का इंतजार है. जिसमें सारी तस्वीर साफ हो जाएगी.