2019 चुनाव: सीपीआई के उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, कन्हैया कुमार का नाम नहीं

 हालांकि, सीपीआई पहले भी घोषणा कर चुकी है कि वह बेगूसराय सीट से चुनाव लड़ेगी, चाहे वह महागठबंधन का हिस्सा बने या नहीं बने. 

2019 चुनाव: सीपीआई के उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, कन्हैया कुमार का नाम नहीं
सीपीआई ने कहा कि वह आगामी चुनावों में 24 राज्यों में 53 सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

नई दिल्ली: भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई) ने लोकसभा चुनावों के लिए अपनी पहली सूची जारी की है. इस सूची में 15 उम्मीदवारों के नाम हैं लेकिन छात्र नेता कन्हैया कुमार को जगह नहीं मिली है. यह इस ओर इशारा करता है कि बिहार में आरजेडी के साथ सीटों के बंटवारे संबंधी बातचीत में गतिरोध है. हालांकि, सीपीआई पहले भी घोषणा कर चुकी है कि वह बेगूसराय सीट से चुनाव लड़ेगी, चाहे वह महागठबंधन का हिस्सा बने या नहीं बने. बिहार में महागठबंधन में आरजेडी, कांग्रेस, रालोसपा, हम (एस) और मुकेश साहनी की विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) शामिल है. वामपंथी पार्टी ने शुक्रवार को कहा कि उसने आगामी चुनावों में 24 राज्यों में 53 सीटों पर लड़ने का फैसला किया है और 15 उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की है. 

सीपीआई नेता डी राजा ने कहा, "आरजेडी के साथ हमारी बातचीत जारी है और बातचीत पूरी होने के बाद ही हम कन्हैया कुमार पर कोई फैसला लेंगे. राज्य एवं प्रदेश इकाइयों, दोनों ने उनके लिए एक सीट चुनी है और हमें देखना होगा कि आरजेडी के साथ बातचीत के क्या नतीजे निकलते हैं." 

उन्होंने संकेत दिया कि अगर आरजेडी उनकी मांगों को नहीं मानती है तो उनकी पार्टी नए सिरे से विचार करेगी. माना जा रहा है कि सीपीआई ने कन्हैया कुमार के लिए बेगुसराय सीट की मांग की है. सूत्रों का कहना है कि आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद छात्र नेता को सीट दिए जाने के खिलाफ है क्योंकि उनकी भूमिहार जाति उनकी पार्टी के पक्ष में नहीं जाएगी. साथ ही आरजेडी का मानना है कि बिहार में एकमात्र लेफ्ट पार्टी जिसकी मौजूदगी एवं जनाधार ठीक-ठाक है, वह सीपीआई (एमएल) है.

 

बिहार में सीपीआई को तीन-चार सीट से कम स्वीकार्य नहीं 
सीपीआई की बिहार इकाई ने बीते शनिवार को महागठबंधन के नेताओं से कहा कि आगामी आम चुनावों में राज्य में उसे तीन-चार लोकसभा सीट से कम स्वीकार्य नहीं है. सीट बंटवारे की प्रक्रिया में लगातार देरी हो रही है. सीपीआई की बिहार इकाई के सचिव सत्य नारायण सिंह ने कहा था कि पार्टी बेगूसराय की सीट से चुनाव लड़ेगी चाहे वह महागठबंधन का हिस्सा बने या नहीं बने. बिहार में लोकसभा की 40 सीट हैं. सिंह ने यह भी स्पष्ट किया था कि जेएनयू के छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार को बेगूसराय लोकसभा सीट से उतारने का निर्णय किया जा चुका है.

(इनपुट भाषा से भी)