close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हाईकोर्ट से बेल की मंजूरी के बाद भी CBI कोर्ट से लालू यादव को नहीं मिल सका बेल, जानें वजह

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को मंगलवार को भी रात जेल में ही बितानी होगी. तीन दिन के पैरोल खत्म होने के बाद सोमवार को लालू यादव पटना से रांची पहुंचे थे. वहीं, रांची हाईकोर्ट से लालू यादव को 6 हफ्तों का प्रोविजनल बेल मिला है.

हाईकोर्ट से बेल की मंजूरी के बाद भी CBI कोर्ट से लालू यादव को नहीं मिल सका बेल, जानें वजह
लालू यादव को मंगलवार को भी प्रोविजनल बेल नहीं मिल सका है. (फाइल फोटो)

रांचीः आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को मंगलवार को भी रात जेल में ही बितानी होगी. तीन दिन के पैरोल खत्म होने के बाद सोमवार को लालू यादव पटना से रांची पहुंचे थे. वहीं, रांची हाईकोर्ट से लालू यादव को 6 हफ्तों का प्रोविजनल बेल मिला है. लेकिन इसकी कागजी कार्यवाही पूरी नहीं होने की वजह से सोमवार को उन्हें जेल में बितानी पड़ी. मंगलवार को भी बेल की आर्डर शीट कोर्ट नहीं पहुंच पाने की वजह से बेल की प्रक्रिया पूरी नहीं हो पायी है. ऐसे में लालू यादव को मंगलवार को भी जेल में ही रात गुजारनी होगी.

लालू यादव के बेल प्रक्रिया पूरी करने के लिए तैयारियों के साथ कोर्ट कार्यकर्ता कोर्ट पहुंचे, लेकिन आर्डर शीट कोर्ट में नहीं पहुंच पाने के कारण उन्हें निराश लौटना पड़ा. दरअसल 11 मई को हाईकोर्ट से लालू यादव के स्वास्थ्य को देखते हुए 6 हफ्तों की मेडिकल लीव को मंजूर किया गया. हालांकि लालू यादव की ओर से 12 हफ्तों की जमानत की याचिका दायर की गई थी.

रांची हाईकोर्ट से जमानत की आर्डर शीट सीबीआई कोर्ट नहीं पहुंच पायी. हालांकि लालू यादव के अधीवक्ता की ओर से सारी तैयारियां कर ली गई थी. तीन अलग-अलग मामलों के लिए पर्याप्त बेलर भी कोर्ट पहुंच चुके थे. लेकिन आर्डर शीट न आने से सभी कामों पर पानी फिर गया.

लालू यादव को मंगलवार को बेल मिल जाएगा इसके लिए सभी लोग आश्वस्त थे. इसलिए लालू यादव के पटना वापसी की भी पूरी तैयारी हो चुकी थी. लेकिन अब सारी तैयारियां बुधवार के लिए की गई है. इस वजह से लालू यादव को मंगलवार को भी जेल में ही रात बितानी होगी.

बता दें कि लालू यादव चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता है. जेल में तबीयत बिगड़ने के बाद से उनका इलाज लगातार जारी है. इलाजे के लिए वह एम्स दिल्ली भा गए थे. लेकिन बाद में उन्हें रिम्स रांची इलाज के लिए वापस भेज दिया गया था. वहीं, बड़े बेटे तेज प्रताप की शादी में शामिल होने के लिए उन्हें तीन दिन का पैरोल मिला था.