close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बयानबाजी के चक्कर में नहीं पड़ता, लोगों को संकट से निकालना प्राथमिकता: नंदकिशोर यादव

नंद किशोर यादव ने कहा कि समीक्षा बैठक हर स्तर पर होता है. सीएम और डिप्टी सीएम समीक्षा कर रहे हैं. कोई दल की सीमा नहीं है. 

बयानबाजी के चक्कर में नहीं पड़ता, लोगों को संकट से निकालना प्राथमिकता: नंदकिशोर यादव
पटना के प्रभारी मंत्री हैं नंदकिशोर यादव.

पटना: बिहार सरकार में पथ निर्माण मंत्री और स्थानीय विधायक नंदकिशोर यादव (Nand Kishore Yadav) ने कहा है कि मैं किसी बयानबाजी के चक्कर में नहीं पड़ता हूं, मेरी प्राथमिकता लोगों को संकट से बाहर निकालना है. ज्ञात हो कि बिहार सरकार के मंत्री और जनता दल युनाइटेड (JDU) नेता श्याम रजक ने उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी (Sushil Modi) और नंदकिशोर यादव पर हमला किया था.

वहीं, नंदकिशोर यादव ने कहा कि समीक्षा बैठक हर स्तर पर होता है. सीएम और डिप्टी सीएम समीक्षा कर रहे हैं. कोई दल की सीमा नहीं है. सारे लोग अपने हैं. उन्होंने कहा कि अगर कोई कमी रही है तो उसकी समीक्षा होगी और आगे की प्लानिंग भी करेंगे. ताकि फिर ऐसी नौबत नहीं आए. समीक्षा के बाद दोषियों पर कार्रवाई भी होगी.

नंदकिशोर यादव ने कहा कि पटना नगर निगम ने 75 टीम बनाई है. हर टीम में 5 से लेकर 10 कर्मचारी हैं, जो फॉगिंग और ब्लीचिंग पाउडर छिड़काव का काम करेंगे. स्वास्थ्य विभाग भी सहयोग कर रहा है. केंद्र सरकार ने 613 करोड़ रुपए दिए हैं. जरूरत पड़ने पर और पैसे मिलेंगे. केंद्रीय टीम की रिपोर्ट के बाद और भी राशि मिलने संभावना है. ये अंतिम नहीं है.

इससे पहले श्याम रजक ने कहा था कि सुशील मोदी को सिर्फ राजेंद्र नगर नजर आता है. बयान देने के अलावा कोई काम नहीं है. प्रभारी मंत्री होने के नाते नंदकिशोर यादव को पूरे जिले की कोई चिंता नहीं है. सिर्फ अपने क्षेत्र यानी पटना सिटी पर फोकस कर रहे हैं.