पटना: महागठबंधन उलझी लेकिन एनडीए ने सुलझाया पेंच, हो गया सीटों का बंटवारा

विधानसभा की सभी सीटिंग सीटों पर जेडीयू प्रत्याशी उतारेगी, जबकि किशनगंज से बीजेपी प्रत्याशी मैदान में होगा.

पटना: महागठबंधन उलझी लेकिन एनडीए ने सुलझाया पेंच, हो गया सीटों का बंटवारा
एनडीए ने उपचुनाव को लेकर सीटों का पेंच सुलझा लिया है.

पटना: महागठबंधन में भले ही उपचुनाव की सीटों को लेकर खींचतान हो गई है, लेकिन एनडीए ने सीटों का पेंच सुलझा लिया है. विधानसभा की सभी सीटिंग सीटों पर जेडीयू प्रत्याशी उतारेगी, जबकि किशनगंज से बीजेपी प्रत्याशी मैदान में होगा.

वहीं, समस्तीपुर लोकसभा सीट लोजपा से लोजपा प्रत्याशी उतारेगी, जहां से सांसद रहे रामचंद्र पासवान के बेटे प्रिंस पासवान का लड़ना तय है. जिन चार सीटों पर जेडीयू प्रत्याशी खड़े करने जा रही है, उनमें भागलपुर की नाथनगर सीट से लक्ष्मीकांत मंडल के नाम पर मुहर सांसद अजय मंडल ने लगायी और कहा कि लक्ष्मीकांड मंडल का चुनाव लड़ना तय है. 

 

वहीं, बेलहर सीट से लालधारी यादव, दरौंधा से अजय सिंह और सिमरी बख्तियारपुर से अरुण यादव को जेडीयू मैदान में उतारेगी. अब इन नाम का औपचारिक ऐलान होना बाकी है. बेलहर सीट से विधायक रहे गिरधारी यादव ने अपने भाई लालधारी के लिए पार्टी में पैरवी की थी, उनकी बात को पार्टी ने मान लिया है. 

ऐसे ही दरौंधा सीट से चुनाव लड़ने जा रहे अजय सिंह सांसद बन चुकी कविता सिंह के पति हैं. जबकि सिमरी बख्तियारपुर से अरुण यादव का नाम सांसद दिनेशचंद्र यादव ने प्रस्तावित किया था. माना जा रहा है कि कल एनडीए की संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस होगी, जिसमें सभी सीटों के लिए प्रत्याशियों के नामों का ऐलान किया जाएगा.