लोकसभा चुनाव : JDU के नारे पर विपक्ष का पटलवार, कहा- 'न सच्चा है, न अच्छा है'

लोकसभा चुनाव : JDU के नारे पर विपक्ष का पटलवार, कहा- 'न सच्चा है, न अच्छा है'

आरजेडी नेता ने सवालिया लहजे में पूछा 'सबका साथ, सबका विकास' के नारे का क्या हुआ. 

लोकसभा चुनाव : JDU के नारे पर विपक्ष का पटलवार, कहा- 'न सच्चा है, न अच्छा है'

पटना : बिहार की सत्ताधारी पार्टी जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) ने लोकसभा चुनाव को लेकर नया नारा दिया है. राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह ने कल (बुधवार को) इसकी घोषणा की. जेडीयू ने नीतीश कुमार की छवि को आधार बनाकर 'सच्चा है, अच्चा है' का नारा दिया है. जेडीयू के नारे पर विपक्ष ने निशाना साधा है. रष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा है कि 'न सच्चा है, न अच्छा है'.

शिवानंद तिवारी ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर सिद्धांत विहीन राजनीति करने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि जुमला नहीं अब काम चाहिए, पांच साल का हिसाब चाहिए. 

आरजेडी नेता ने सवालिया लहजे में पूछा 'सबका साथ, सबका विकास' के नारे का क्या हुआ. साथ ही कहा कि नीतीश कुमार उन लोगों की पालकी ढो रहे है, जो तनाव फैला रहे हैं.

आरजेडी के बाद कांग्रेस ने भी पलटवार किया है. पार्टी के प्रवक्ता और विधानपरिषद सदस्य प्रेमचंद मिश्रा ने नीतीश कुमार को झूठा और अवसरवादी करार दिया है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ने बिहार की जनता का अपमान किया है. साथ ही पूछा कि बीजेपी से हाथ क्यों मिलाया, इसका स्पष्टीकरण दें. उन्होंने दावा किया कि बिहार में सच की जीत होगी और कांग्रेस की जीत होगी.

विपक्ष के पलटवार पर जेडीयू नेता राजीव रंजन ने भी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी का नारा पूरी तरह नीतीश कुमार के व्यक्तित्व के अनुरूप है. विपक्ष को इस नारे का मर्म समझ में नहीं आयेगा. उनमें इतनी समझदारी नहीं है. 14 साल के शासनकाल में नीतीश कुमार ने नारे की सार्थकता को साबित किया है.

Trending news