पटना के बिक्रमगंज में 'लालच की इंतहां', शहद के चक्कर में फूंक गया स्कूल

Patna News: स्कूल परिसर में संकुल संसाधन केंद्र का दफ्तर था जहां आग ने ऐसा तांडव मचाया कि सबकुछ खाक कर दिया. संकुल संसाधन केंद्र में रखे कंप्यूटर, स्टेबलाइजर और अन्य उपकरणों के साथ-साथ सारा सामान आग की भेंट चढ़ गया

पटना के बिक्रमगंज में 'लालच की इंतहां', शहद के चक्कर में फूंक गया स्कूल
शहद के चक्कर में फूंक गया स्कूल. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Patna: 'लालच बुरी बला है' ये कहावत तो आपने कई बार सुनी होगी. लेकिन आप सोच रहे होंगे की हम ऐसा क्यों कह रहे हैं. दरअसल, पटना से सटे बिक्रमगंज में कुछ ऐसा ही हुआ है. दुल्हिनबाजार के सोरमपुर गांव में मिडिल स्कूल है. स्कूल से सटे एक पेड़ पर मधुमक्खियों ने छत्ता बना रखा था. गांव के कुछ लोगों की नजर मधुमक्खी के छत्ते पर पड़ी. 

इसके बाद शहद (Honey) का लालच उनसे सहन नहीं हुआ और वो मशाल लेकर शहद निकालने पहुंच गए. मधुमक्खी के डंक का खौफ तो था ही लेकिन शहद का लालच भी था, तो इनलोगों ने पेड़ के नीचे आग लगा दी, उम्मीद थी कि धुएं से डरकर मधुमक्खियां भाग जाएंगी और हुआ भी ऐसा ही. लेकिन आग पर किसका जोर चलता है. पेड़ के नीचे लगाई गई आग भड़क गई और चिंगारी स्कूल की बिल्डिंग में गिरी और आग भड़क गई.

ये भी पढ़ें- Supaul: सड़क के किनारे मिले 3 शव, हत्या की गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस

स्कूल परिसर में संकुल संसाधन केंद्र का दफ्तर था जहां आग ने ऐसा तांडव मचाया कि सबकुछ खाक कर दिया. संकुल संसाधन केंद्र में रखे कंप्यूटर, स्टेबलाइजर और अन्य उपकरणों के साथ-साथ सारा सामान आग की भेंट चढ़ गया. वहीं, शहद के लालच में आए लोगों ने जब देखा कि आग पर काबू पाना संभव नहीं है तो वहां से भागने में अपनी भलाई समझी. 

इसके बाद गांव के कुछ लोगों ने जब स्कूल कैंपस से उठते धुएं का गुब्बार देखा तो फायर ब्रिगेड (Fire Brigrade) को फोन किया तब जाकर टीम पहुंची लेकिन तब तक देर हो चुकी थी. कमरे में धुआं भरा था और राख का ढेर बचा था. वहीं, मिडिल स्कूल के प्रभारी प्रधानाध्यापक संतोष कुमार सुमन ने स्कूल के कमरे में आग लगने की प्राथमिकी दर्ज कराई है. अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर पुलिस जांच में जुटी है.

ये भी पढ़ें- Supaul: Muzaffarpur में 'दहेज लोभियों' ने नवविवाहिता की ली जान, अधजले शव को गड्ढे में गाड़ा