close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रेल होटल आवंटन मामले में CBI ने दाखिल किया चार्जशीट, लालू, राबड़ी और तेजस्वी का नाम शामिल

 लालू परिवार को सीबीआई ने एक बड़ा झटका दिया है. केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने सोमवार (16 अप्रैल) को आईआरसीटीसी रेलवे होटल घोटाले मामले में चार्जशीट दाखिल की है. सीबीआई के चार्जशीट में लालू प्रसाद यादव समेत 14 लोगों के नाम शामिल है. 

रेल होटल आवंटन मामले में CBI ने दाखिल किया चार्जशीट, लालू, राबड़ी और तेजस्वी का नाम शामिल
रेलवे होटल आवंटन मामले CBI ने दाखिल किया चार्जशीट.

पटनाः लालू परिवार को सीबीआई ने एक बड़ा झटका दिया है. केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने सोमवार (16 अप्रैल) को आईआरसीटीसी रेलवे होटल घोटाले मामले में चार्जशीट दाखिल की है. सीबीआई के चार्जशीट में लालू प्रसाद यादव समेत 14 लोगों के नाम शामिल है. लालू परिवार के लिए सबसे बड़ा झटका यह है कि इन नामों में लालू की पत्नी और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और उनके छोटे बेटे पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव का नाम भी शामिल है. इससे पहले सीबीआई बीते 10 अपैल को तेजस्वी यादव से पूछताछ करने आयी थी. सीबीआई ने तेजस्वी से करीब 4 घंटे तक इस मामले में पूछताछ की थी. यह मामला 2006 का जिसमें एक निजी कंपनी को दो आईआरसीटीसी होटलों के अनुबंध जारी करने का आरोप लगाया गया था.

सीबीआई ने जिन लोगों के नाम चार्जशीट फाइल की है उनमें लालू परिवार के अलावा सरला गुप्ता, विनय कोचर, विजय कोचर, पीके गोयल, प्रेम चंद्र गुप्ता, राकेश सक्सेना, बीके अग्रवाल, आरके गोगिया के अलावे अन्य लोगों के नाम शामिल हैं. चार्जशीट में 14 लोगों के नाम दिये गए हैं.

सियासी हंगामे के बाद राबड़ी देवी के आवास पर फिर बहाल हुई सुरक्षा

सीबीआई की एफआईआर में आरोप लगाया गया है कि लालू प्रसाद ने बतौर रेल मंत्री अपने कार्यकाल के दौरान आईआरसीटीसी के दो होटलों के रखरखाव का काम 2004 में एक कंपनी को दिया था. इसके बदले उन्होंने पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रेम चंद गुप्ता की पत्नी सरला गुप्ता के स्वामित्व वाली कंपनी से बेनामी के जरिये पटना में बेशकीमती जमीन घूस के तौर पर ली थी.

मुजफ्फरपुरः एसएसपी विवेक कुमार के आवास पर स्पेशल विजिलेंस टीम का छापा

भारतीय रेलवे कैटरिंग और टूरिज्म कॉरपोरेशन (आईआरसीटीसी) के झारखंड के रांची में और ओडिशा के पुरी में स्थित दो होटलों को चलाने का ठेका बिहार में पटना में एक प्रमुख भूखंड के रूप में रिश्वत के बाद विजय और विनय कोचर की सुजाता होटल्स कंपनी को सौंपा गया था.  सीबीआई के मुताबिक, लालू प्रसाद ने आईआरसीटीसी के माध्यम से सुजाता होटल को अवैध रूप से चलाने की इजाजत दी और इन दो होटलों के विकास, रखरखाव और संचालन के लिए निविदा प्रक्रिया से पटना में तीन एकड़ भूखंड के बदले में छेड़छाड़ किया गया, जहां अब एक मॉल बन रहा है.

होटल आवंटन मामले में क्या है आरोप
लालू यादव पर रेल मंत्री रहते हुए टेंडर में अनियमितता का आरोप है. 
रांची-पुरी होटल के विकास, रखरखाव और टेंडर में गड़बड़ी का आरोप है.
एक निजी कंपनी को फायदा पहुंचाने का आरोप है.
टेंडर के बदले पटना में 3 एकड़ जमीन कम कीमत पर खरीदने का आरोप.
आरोप है कि डिलाइट मार्केटिंग को जमीन दिया गया.
जमीन को लारा प्रोजेक्टस को स्थानांतरित किया गया.