बिहार: पूर्व मुखिया की हत्या के बाद लोगों ने की सीबीआई जांच की मांग, कैंडल मार्च भी निकाला

मार्च के समापन पर लोगों ने उनकी तस्वीर के सामने कैंडल जला कर गौतम सिंह के आत्मा की शांति की कामना की. मार्च में शामिल लोगों ने पीड़ित परिवार को मुआवजा देने की मांग तो की ही साथ ही एक सदस्य को सरकारी नौकरी भी देने की मांग की है.

बिहार: पूर्व मुखिया की हत्या के बाद लोगों ने की सीबीआई जांच की मांग, कैंडल मार्च भी निकाला
पूर्व मुखिया की गोलियों से भून कर हुई थी हत्या. (प्रतीकात्मक फोटो)

पटना: बिहार के नालंदा जिले के हरनौत थाना स्थित बस्ती गांव में पूर्व मुखिया व राष्ट्रीय राजपूत महासभा के प्रखंड अध्यक्ष गौतम सिंह उर्फ फंटू सिंह की हत्या कर दी गई. इसके बाद लोग हत्या का पता लगाने के लिए सीबीआई से जांच कराने की मांग पर अड़ गए हैं. लोगों का कहना है कि हत्यारों का पता लगा कर उन्हें सलाखों के पीछे डाला जाए. यहीं नहीं लोगों ने इस बाबत कैंडल मार्च भी निकाला.

मार्च के समापन पर लोगों ने उनकी तस्वीर के सामने कैंडल जला कर गौतम सिंह के आत्मा की शांति की कामना की. मार्च में शामिल लोगों ने पीड़ित परिवार को मुआवजा देने की मांग तो की ही साथ ही एक सदस्य को सरकारी नौकरी भी देने की मांग की है.

दरअसल, पिछले 10 जनवरी को बस्ती गांव में फंटू सिंह को उस समय गोलियों से छलनी कर दिया गया, जब वह अपने घर के बाहर आग ताप रहे थे. मृतक गौतम सिंह का इलाके में काफी रुतबा है. हत्या के पांच दिन गुजर जाने के बाद भी हत्यारे की गिरफ्तारी नहीं होने से लोग काफी आक्रोशित दिख रहे हैं.

हालांकि हत्या के बाद उनके चचेरे भाई को गिरफ्तार कर लिया गया था जिसके इस पूरे मामले में शामिल होने का शक जताया जा रहा था. बावजूद इसके लोग मामले का निपटारा बहुत जल्द चाहते हैं.