close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दो दिवसीय दौरे पर झारखंड आएंगे पीएम मोदी, पलामू-संथाल परगना में कार्यक्रम प्रस्तावित

17 अक्टूबर को दो दिवसीय झारखंड दौरे पीएम के आने की खबर ने विरोधियों को हमलावर कर दिया है. जेएमएम से लेकर कांग्रेस के नेता तक सरकारी पैसे पर पार्टी के कार्यक्रम का आरोप लगा रहे हैं.  

दो दिवसीय दौरे पर झारखंड आएंगे पीएम मोदी, पलामू-संथाल परगना में कार्यक्रम प्रस्तावित
चुनाव की तारीख के ऐलान से पहले एक बार फिर पीएम का झारखंड दौरा प्रस्तावित है.

रांची: झारखंड में विधानसभा चुनाव की तैयारी और रणनीति बनाने में सभी दल जुटी है. भले ही सभी सियासी दल दुर्गा पूजा में फिलहाल व्यस्त हैं पर चुनावी गणित की रणनीति जारी है. चुनाव की तारीख के ऐलान से पहले पीएम मोदी दो दिवसीय दौरे पर झारखंड आएंगे. 17 अक्टूबर को दो दिवसीय झारखंड दौरे पीएम के आने की खबर ने विरोधियों को हमलावर कर दिया है. जेएमएम से लेकर कांग्रेस के नेता तक सरकारी पैसे पर पार्टी के कार्यक्रम का आरोप लगा रहे हैं.

फिलहाल झारखंड में तैयारी में जुटे दलों को चुनावी तारीख के ऐलान का इंतजार कर रहे हैं. झारखंड में हर दल तारीख तय होने से पहले अपने सियासी गतिविधि को अंजाम तक पहुंचाने में जुटे हैं. मुख्यमन्त्री अपने जोहार जन आशीर्वाद योजना के जरिए हर दर तक दस्तक देकर दोबारा सत्ता वापसी का आशीर्वाद मांग रहे हैं तो एक बार फिर पीएम मोदी के झारखंड दौरे की खबर सुर्खियों में है. 

पीएम का 17 और 18 अकटुबर का दो दिवसीय दौरा प्रस्तावित है. 17 अकटुबर को पीएम झारखंड आएगें और पलामू और सन्थाल परगना में कार्यक्रम करेंगे. 17 अक्टूबर की रात पीएम रांची के राजभवन में गुजारेंगे और 18 अकटुबर को दिल्ली लौट जाएंगे. हालांकि बीजेपी के नेता फिलहाल पीएम के झारखंड दौरे की आधिकारिक पुष्टि नहीं कर रहे हैं. पर उन्होंने ये जरूर कहा कि पीएम का झारखंड से खास लगाव रहा है इसलिए झारखंड से वो लोगों को सौगात देने आते रहे हैं.

विपक्ष भी अपने-अपने तरीके से चुनावी गतिविधियों को रफ्तार देने में जुटी है. इसलिए चुनावी ऐलान से पहले विपक्ष बीजेपी की रणनीति पर नजर बनाए हुए है. सीएम के जन आशीर्वाद योजना से लेकर पीएम के प्रस्तावित झारखंड दौरे ने विरोधियों के पारा को गर्म कर दिया है. 

विपक्ष के निशाने पर पीएम का झारखंड दौरा और सीएम का जन आशीर्वाद यात्रा है. कांग्रेस की मानें तो पीएम का रघुवर सरकार के प्रति भरोसा कम हो रहा है इसलिए बार बार झारखंड आना पड़ रहा है, तो झारखंड की मुख्य विपक्षी पार्टी जेएमएम का मानना है कि पीएम के दौरे से सरकारी पैसों का दुरुपयोग हो रहा है.

चुनावी चौपर पर हर विसाद को सेट करने में हर दल के नेता जुट गए हैं. सत्ता पर कब्जा जमाने के लिए अंतिम वक्त तक हर दांव लगाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं.