बिहार: रेलवे ने बंद कर दिए 4 ट्रेनों के सभी शौचालय, चलती ट्रेन में यात्री जाए तो जाए कहां?

अगर आप बिहार के रक्सौल स्टेशन से यात्रा करने वाले हैं तो यह खबर आपके के लिए है. अगर आपको यात्रा के दौरान शौच लगी तो आप परेशानी में पड़ सकते हैं.

बिहार: रेलवे ने बंद कर दिए 4 ट्रेनों के सभी शौचालय, चलती ट्रेन में यात्री जाए तो जाए कहां?
रक्सौल से खुलने वाली चार सवारी गाड़ी के टॉयलेट सील.

पंकज कुमार, मोतिहारी : अगर किसी ट्रेन के सभी शौचालयों को बंद कर दिया जाए तो आप यात्रियों की स्थिति का अंदाजा लगा सकते हैं. कुछ ऐसा ही हुआ है बिहार के रक्सौल से खुलने वाली ईएमयू ट्रेन (सवारी गाड़ी) में. ऐसी तस्वीर सिर्फ एक ट्रेन की नहीं, बल्कि चार की है. इन ट्रेनों के शौचालयों को बाकायदा वेल्डिंग कर सील कर दिया गया है.

अगर आप बिहार के रक्सौल स्टेशन से यात्रा करने वाले हैं तो यह खबर आपके के लिए है. अगर आपको यात्रा के दौरान शौच लगी तो आप परेशानी में पड़ सकते हैं. आपको गंतव्य स्थान तक शौच के लिए इंतजार करना पड़ सकता है. रेलवे की लापरवाही से ऐसा मुमकिन हुआ है.

रक्सौल से खुलने वाली सभी ईएमयू ट्रेनों की शौचालयों को रेलवे ने वेल्डिंग कर लॉक कर दिया है. इस कारण यात्रा करने वाले सभी यात्रियों को काफी परेशानी हो रही है. शौच के लिए महिला और पुरुष यात्रियों को भागदौड़ करनी पड़ती है. यात्री शौचालय के गेट खोलने की पूरी कोशिश करते हैं, लेकिन वेल्डिंग होने के कारण असफल रहते हैं.

यात्री काफी परेशान हो गए हैं. रक्सौल से मुज्जफरपुर, समस्तीपुर और नरकटियागंज के लिए चार जोड़ी इएमयू ट्रेन चलती है. सभी ईएमयू ट्रेनों के टॉयलेट को लॉक कर दिया गया है. इन रूटों पर यात्रा करने में करीब पांच से 6 घंटे का समय लगता है. लेकिन इस यात्रा के बीच अगर किसी यात्री को शौच लग गई तो उसकी क्या स्थिति होगी इसका अंदाजा आप खुद ही लगा सकते हैं.

इस संबंध में रक्सौल स्टेशन के स्टेशन प्रबंधक अनिल श्रीवास्तव से पूछा गया तो उन्होंने कैमरे के सामने कुछ भी बोलने से साफ मना कर दिया. ऐसे में सबसे बड़ा सवाल है कि क्या सुख सुविधा के साथ रेल यात्रा करना बीते दिनों की बात हो गई सवाल यह भी उठता है कि जिनकी लापरवाही से यात्रियों को परेशान हो रही है उनके खिलाफ क्या कार्रवाई होगी?

लाइव टीवी देखें-: