बिहारः सात वर्षीय बच्ची से दरिंदगी, दुष्कर्म के बाद जिंदगी और मौत से लड़ रही है जंग

छपरा में एक सात वर्षीय बच्ची के साथ अपराधियों ने दरिंदगी की है. 

बिहारः सात वर्षीय बच्ची से दरिंदगी, दुष्कर्म के बाद जिंदगी और मौत से लड़ रही है जंग
छपरा में बच्ची के साथ दुष्कर्म किया है. (प्रतीकात्मक फोटो)

छपराः बिहार के छपरा में एक सात वर्षीय बच्ची के साथ अपराधियों ने दरिंदगी की है. बताया जा रहा है कि बच्ची के साथ निर्भया जैसी हरकत की गई है. जिसके बाद बच्ची जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही है. खबरों के मुताबिक सूलपुर थाना क्षेत्र में एक सात वर्षीय बच्ची के साथ दरिंदगी के साथ दुष्कर्म किया गया है.

बताया जा रहा है कि सूलपुर थाना क्षेत्र के धन्नाडीह गांव में शौच करने गई एक सात वर्षीय बच्ची के साथ चाकू का भय दिखाकर उसी गांव के एक युवक ने दुष्कर्म किया. यह मामला शुक्रवार को प्रकाश में आया. पीड़ित बच्ची को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जहां उसकी नाजुक स्थिति देखते हुए पटना रेफर किया गया है.

घटना के बाद से आरोपी फरार बताया जा रहा है, परिजनों ने बताया कि बच्ची शौच करने के लिए घर से बाहर गई थी. इसी दौरान गांव के ही एक युवक के द्वारा चाकू का भय दिखाकर बच्ची को गेहूं की खेत में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया गया. घटना के बाद बेहोशी की हालत में बच्ची को छोड़कर फरार हो गया. बाद में खेत में काम करने गए लोगों ने बच्ची को बेहोशी की हालत में देखा तो, उसे उठाकर घर लाया और परिजनों को घटना की जानकारी हुई.

परिजनों ने उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल भर्ती कराया. बताया जा रहा है कि बच्ची के गुप्तांग के साथ दरिंदगी की गई है. इस घटना की जानकारी रसुलपुर थाना की पुलिस को दी गई है. पुलिस के द्वारा आरोपी को गिरफ्तार कर छापेमारी की जा रही है. इस मामले में पीड़ित बच्ची के परिजनों के बयान पर रसूलपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है और फॉरेंसिक लैब की टीम को जांच के लिए बुलाया गया है. बच्ची की मेडिकल जांच के लिए बोर्ड का गठन किया गया है.

फिलहाल पुलिस इसकी जांच कर रही है और फरार आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी की जा रही है. इस घटना के कारण गांव में लोगों में काफी आक्रोश है. चिकित्सकों के अनुसार बच्ची को अत्यधिक रक्तस्राव हुआ है और वह आंतरिक रूप से काफी जख्मी है, जिसका इलाज चल रहा है. 7 वर्ष की बच्ची के साथ हैवानियत की हद पार करने वाली घटना ने न केवल जिले को कलंकित किया है, बल्कि लगातार आए दिन हो रही मासूमों के साथ दुष्कर्म की घटना ने आम लोगों की चिंता बढ़ा दी है.