close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

RJD में फूट, MLA ने कहा- 'मिले हुए हैं तेजस्वी-गिरिराज लेकिन हम जाएंगे नीतीश के साथ'

आरजेडी के वरिष्ठ नेता पार्टी में सबकुछ ठीक होने का दावा कर रहे हैं लेकिन आरजेडी में तेजस्वी यादव के ही विरोध में एक अलग कुनबा खड़ा हो रहा है जो नीतीश कुमार का साथ चाहता है. आरजेडी एमएलए महेश्वर यादव ने पार्टी से बगावत तेजस्वी का बीजेपी से मिले होने का आरोप लगाया है. 

RJD में फूट, MLA ने कहा- 'मिले हुए हैं तेजस्वी-गिरिराज लेकिन हम जाएंगे नीतीश के साथ'
आरजेडी में तेजस्वी यादव के ही विरोध में एक अलग कुनबा खड़ा हो रहा है.

पटना: बिहार (Bihar) में फिलहाल विधानसभा चुनाव में एक साल बाकी है लेकिन चुनावी राजनीति पहले ही चरम पर पहुंच चुकी है. एक बात तो अब तक साफ हो गई है कि कहीं ना कहीं बिहार की राजनीति नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के इर्द गिर्द ही घूमती है फिर चाहे उनके साथ की पार्टियां हो या विपक्ष की. 

आरजेडी के वरिष्ठ नेता पार्टी में सबकुछ ठीक होने का दावा कर रहे हैं लेकिन आरजेडी में तेजस्वी यादव के ही विरोध में एक अलग कुनबा खड़ा हो रहा है जो नीतीश कुमार का साथ चाहता है. आरजेडी एमएलए महेश्वर यादव ने पार्टी से बगावत तेजस्वी का बीजेपी से मिले होने का आरोप लगाया है. 

 

महेश्वर यादव ने दावा किया है कि बिहार सरकार को गिराने का षडयंत्र किया जा रहा है और मध्याविधी चुनाव कराने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने कहा है कि हम सरकार किसी भी हाल में नहीं गिरने देंगे और जल्द ही सबकुछ ठीक हो जाएगा. 

आरजेडी एमएलए महेश्वर यादव ने कहा है कि बीजेपी नीतीश कुमार को पद से हटाने की तैयारी में है. मेरे या किसी और नेतृत्व में नीतीश कुमार के साथ जाएंगे. आरजेडी के 60 से ज्यादा विधायक हमारे साथ हैं. 

बीजेपी की ओर से नीतीश कुमार पर वार होगा लेकिन हम उनके साथ चले जाएंगे. गिरिराज सिंह और तेजस्वी यादव एक साथ चले जाएंगे. दोनों एक ही भाषा बोल रहे हैं.

साथ ही महेश्वर यादव ने कहा है कि तीन महीने से बीजेपी के साथ तेजस्वी यादव सेंटिंग कर रहे थे. अगर अब्दुलबारी सिद्दीकी साथ आएंगे, तो वो नेता हो जाएंगे. जो वरिष्ठ नेता हमारे साथ आएगा और उसी के नेतृत्व में नीतीश कुमार का समर्थन करेंगे और अकेले तेजस्वी यादव आरजेडी में अकेले रह जाएंगे. 

देखने वाली बात ये होगी कि आने वाले दिनों में बिहार की राजनीति किस दिशा में करवट लेती है. क्योंकि महेश्वर यादव के अनुसार अगर तेजस्वी यादव बीजेपी से मिल जाते हैं तो नीतीश कुमार का अगला कदम क्या होगा ये भी देखने वाली बात होगी.