बिहार में रोस्टेड मखाना प्लांट को मिली मंजूरी, हर हाथ रोजगार देने का सपना होगा साकार

इस प्लांट की शुरुआत होने से समाज के हर तबके के लोग स्वादिष्ट मखाना का स्वाद ले सकेंगे. इस मौके पर उप-मुख्यमंत्री रेणु देवी ने कहा कि बिहार में ऐसे उद्योग लगाने की जरूरत है. बिहार के युवा रोजगार देने वाले बने, रोजगार लेने वाले नहीं. 

बिहार में रोस्टेड मखाना प्लांट को मिली मंजूरी, हर हाथ रोजगार देने का सपना होगा साकार
बिहार में रोस्टेड मखाना प्लांट को मिली मंजूरी, हर हाथ रोजगार देने का सपना होगा साकार.

इश्तेयाक खान/पटना: मखाना उद्योग को बढ़ावा देने और इसका अंतर्राष्ट्रीय स्तर तक पहचान बनने के उद्देश्य से पटना से सटे फुलवारीशरीफ के बभनपूरा पंचायत में प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत मखाना प्रोसेसिंग यूनिट का उदघाटन बिहार के उप-मुख्यमंत्री रेणु देवी ने किया. 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की महत्वाकांक्षी योजनाओं को बढ़ावा देने और बिहार में हर हाथ को रोजगार देने का सपना धीरे-धीरे साकार करने के लिए रोस्टेड मखाना प्लांट की शुरुआत की गई है. 

इस प्लांट की शुरुआत होने से समाज के हर तबके के लोग स्वादिष्ट मखाना का स्वाद ले सकेंगे. इस मौके पर उप-मुख्यमंत्री रेणु देवी ने कहा कि बिहार में ऐसे उद्योग लगाने की जरूरत है. बिहार के युवा रोजगार देने वाले बने, रोजगार लेने वाले नहीं. 

इस मौके पर पाटलिपुत्र के सांसद राम कृपाल यादव, फुलवारी विधायक गोपाल रवि दास, किसान सभा बिहार के अध्यक्ष ललन चौधरी एवं सीटू के जेनरल सेक्रेटरी गणेश शंकर सिंह के अलावे अन्य लोग भी मौजूद थे. 

गौरतलब है कि मखाना पौष्टिकता से भरपूर होता है क्योंकि इसमें मैग्नेशियम, पोटाशियम, फाइबर, आयरन, जिंक आदि भरपूर मात्रा में होता है. इस तरह के प्लांट लगने के पीछे समाज के हर तबके के लोगों तक पोष्टिकता से भरपूर मखाना को पहुंचाना है, जहां बाज़ारों में मखाना 500 से 900 रुपये किलो मिलता है. 

वही 10 रुपये के पैकेट में रोस्टेड मखाना आम आदमी के लिए मील का पत्थर साबित होगा. रोस्टेड मखाना प्लांट के ऑनर चंदन कुमार ने बताया कि समाज के हर वर्ग के लोगों को मखाना खिलाने का सपना आज साकार हो रहा है.

बिहार में नए सरकार के गठन के बाद ये पहला उद्योग है जिसे स्थापित किया गया है. कम से कम इस तरह के उद्योग के स्थापित होने से बिहार में रोजगार के अवसर बनेगे और तो रोजगार पा सकेंगे. साथ ही समाज के हर तबके, हर वर्ग के लोग स्वादिष्ट मखाना का स्वाद चख सकेंगे.