सीएम रघुवर दास के आग्रह के बाद रांची में खुलेगा एसआरटीएमआइ का मुख्यालय

केंद्रीय इस्पात मंत्री वीरेंद्र सिंह ने कहा कि जल्द ही एसआरटीएमआइ का मुख्यालय रांची में खुलेगा.

सीएम रघुवर दास के आग्रह के बाद रांची में खुलेगा एसआरटीएमआइ का मुख्यालय
सीएम रघुवर दास ने केंद्रीय मंत्री वीरेंद्र सिंह से मुलाकात की.

कुमार चन्दन/रांचीः मुख्यमंत्री रघुवर दास ने नई दिल्ली में केंद्रीय इस्पात मंत्री वीरेंद्र सिंह से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने उनसे एसआरटीएमआइ का मुख्यालय रांची में खोलने का आग्रह किया. उन्होंने कहा कि झारखंड में प्रचुर मात्रा में खनिज संपदा उपलब्ध है. इस संस्थान के रांची में खुलने से इसका लाभ मिलेगा. राज्य में खनिज आधारित इकाईयां सेल, आरडीएसआइसीएस, मेकॉन, एमआइटी जैसे लोक उपक्रम तथा टाटा स्टील, जेएसपीएल जैसे निजी उपक्रम कार्यरत हैं. 

इसके साथ ही उन्होंने कहा राउरकेला औद्योगिक क्षेत्र, दुर्गापुर, बर्नपुर आदि भी यहां से नजदीक है. रांची में इसके खुलने से झारखंड के अलावा पश्चिम बंगाल, ओड़िशा, छत्तीसगढ़ को भी लाभ मिलेगा. एसआरटीएमआइ का मुख्यालय रांची में खोलने के लिए राज्य सरकार हर प्रकार का सहयोग करने के लिए तैयार है. केंद्रीय इस्पात मंत्री वीरेंद्र सिंह ने कहा कि जल्द ही एसआरटीएमआइ का मुख्यालय रांची में खुलेगा.

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने केंद्रीय स्टील मंत्री से यह आग्रह किया की स्थानीय उद्योग में तथा आम आदमी को स्टील न्यायोचित दर पर मिल सके इसके लिए पहल की जाए केंद्रीय स्टील मंत्री ने कहा कि 19 तारीख को इस्पात सचिव की अध्यक्षता में बोकारो स्टील सिटी में बैठक होगी जिस पर इस विषय पर निर्णय लिया जाएगा.

साथ ही, बीएसएल क्षेत्र में लंबे समय से रह रहे लोगों के नियमितीकरण के संबंध में शीघ्र निर्णय लिए जाने पर मुख्यमंत्री ने केंद्रीय इस्पात मंत्री से आग्रह किया. केंद्रीय इस्पात मंत्री ने कहा कि स्टील सेक्रेट्री जल्द ही रांची आएंगे और इस विषय पर एक बैठक कर जल्द से जल्द लोगों के हित में निर्णय लिया जाएगा.

मुख्यमंत्री ने कहा कि बोकारो स्टील की आवश्यकता पर आधारित स्थानीय उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए स्थानीय स्तर क्रय को बढ़ावा देने की आवश्यकता है. इस विषय पर केंद्रीय इस्पात मंत्री ने कहा कि 19 तारीख को बोकारो में केंद्रीय इस्पात सचिव की बैठक में विचार किए जाने और अधिक से अधिक स्थानीय क्रय को बढ़ावा दिए जाने की संभावनाओं पर विचार किया जाएगा.

चतरा में जल्द ही स्टील प्लांट लगाए जाने पर केंद्रीय इस्पात मंत्री को मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार स्टील प्लांट के लिए आवश्यक आयरन अयस्क ब्लॉक के आवंटन पर जल्द से जल्द निर्णय लेगी ताकि चतरा में स्टील प्लांट जल्द से जल्द बन सके.