close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सुशील मोदी की बहन ने हीरा व्यापारी पर लगाया दुर्व्यवहार का आरोप, जांच में जुटी पुलिस

बकाया रकम नहीं देने को लेकर कोतवाली थाने में दुर्व्यवहार और मारपीट के साथ-साथ मोबाइल तोड़ने का मामला दर्ज कराया गया है.

सुशील मोदी की बहन ने हीरा व्यापारी पर लगाया दुर्व्यवहार का आरोप, जांच में जुटी पुलिस
रेखा मोदी ने हीरा व्यापारी के खिलाफ मामला दर्ज कराया है.

पटना : बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी की बहन रेखा मोदी ने बिहार के सबसे बड़े हीरा व्यापारी पंकज अग्रवाल पर दुर्व्यवहार, मारपीट और मोबाइल तोड़ने का मामला कोतवाली थाना में दर्ज कराया है. मामला हाईप्रोफाइल होने के कारण पटना पुलिस भी सकते में है. दरसअल, यह पूरा मामला हीरा व्यापारी पंकज अग्रवाल और रेखा मोदी के व्यापार से जुड़ा है, जो कि लंबे समय से चलता आ रहा है. बकाया पैसा देने को लेकर एक दूसरे के साथ पहले भी कई बार अनबन भी हो चुकी है.

बकाया रकम नहीं देने को लेकर कोतवाली थाने में दुर्व्यवहार और मारपीट के साथ-साथ मोबाइल तोड़ने का मामला दर्ज कराया गया है. मामला हाईप्रोफाइल होने के कारण कोतवाली पुलिस ने आरोपी पंकज अग्रवाल के दो कर्मियों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है.

पंकज अग्रवाल ने भी कोतवाली थाने में रेखा मोदी के खिलाफ लाखों रुपए बकाया न देने और पूरे परिवार को उठवा लेने के साथ-साथ जान से मारने की धमकी देने का मामला दर्ज कराया है. इस पूरे मामले में पंकज अग्रवाल ने बताया कि पूरा मामला पैसों की लेन-देन का है, जो लंबे समय से चल रहा है.

उन्होंने रेखा मोदी पर आरोप लगाया कि जब भी पैसे देने की बात आती है तो पूरे परिवार को उठवा लेने और जान से मरवा देने की धमकी दी जाती है. इस डर से बेटा समेत पूरे परिवार अपने संबंधी के यहां भेज दिया. ताकि कोई अनहोनी की घटना न हो. उन्होंने बताया कि कल यानी गुरुवार को घर में घुसकर स्टाफ के साथ मारपीट की और फसा देने की धमकी भी दी. उन्होंने कहा कि पूरी करतूत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है.

मामला हाईप्रोफाइल होने के कारण कोतवाली पुलिस भी फूंक-फूंक कर कदम रख रही है. फिलहाल पुलिस सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है और हिरासत में लिए गए दोनों कर्मियों से पूछताछ कर मामले की जांच में जुटी हुई है. इस मामले में पुलिस फिहलाल कुछ भी बोलने से बचती दिख रही है.