झारखंड चुनाव: BJP-AJSU गठबंधन पर सस्पेंस बरकरार, आज हो सकता है कुछ बड़ा ऐलान

झारखंड विधानसभा चुनाव से पहले रविवार को राजधानी दिल्ली और रांची में बीजेपी और आजसू की बड़ी बैठक होने वाली है. माना जा रहा है कि रविवार शाम तक गठबंधन और सीटों को लेकर कुछ ऐलान हो सकता है.

झारखंड चुनाव: BJP-AJSU गठबंधन पर सस्पेंस बरकरार, आज हो सकता है कुछ बड़ा ऐलान
बीेजेपी-आजसू के गठबंधन को लेकर अभी तक कुछ साफ नहीं हुआ है. (फाइल फोटो)

रांची: झारखंड विधानसभा चुनाव (Jharkhand  Assembly Election) को लेकर राजनीतिक दलों में सस्पेंस बरकरार है. कहीं गठबंधन को लेकर तो कहीं कई सीटों पर पेंच फंसा है. इसी क्रम में भारतीय जनता पार्टी (BJP)  और आजसू (AJSU) के बीच चुनावी गठबंधन को लेकर अभी तक सस्पेंस बना हुआ है. 

सूत्रों के अनुसार. आजसू झारखंड में 15 सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है और इसको लेकर वह अड़ी हुई है. जबकि बीजेपी आजसू को 10 से अधिक सीट देने कौ तैयार नहीं है. वहीं, आजसू चंदनकियारी और लोहरदगा की सीट लेने पर अड़ी है. जानकारी के मुताबिक, बीजेपी चंदनकियारी से अपने विधायक अमर बाउरी को दोबारा मैदान में उतारने की तैयारी कर रही है. जबकि पार्टी लोहरदगा सीट पर कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए सुखदेव भगत को टिकट दे सकती है. बता दें कि सुखदेव भगत झारखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष थे. 

माना जा रहा है कि रविवार को राजधानी दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी के केंदीय संसदीय बोर्ड की बैठक होगी. इस बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी, अमित शाह,जेपी नड्डा, राजनाथ सिंह, ओम माथुर, भूपेंद्र यादव सहित कई नेता शामिल हो सकते हैं. बैठक के बाद बीजेपी ने अपने प्रत्याशियों की पहली सूची जारी कर सकती है.

वहीं, रविवार को आजसू के संसदीय बोर्ड की बैठक रांची में होने वाली है. इस बैठक में गठबंधन सहित पहले चरण के उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा हो सकती है. आपको बता दें कि झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास (Raghubar Das) आज दिल्ली में ही हैं और पार्टी के बड़े नेताओं से मुलाकात करेंगे.. 

रघुवर दास ने रविवार को बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और झारखंड प्रदेश प्रभारी ओम माथुर से भी मुलाकात की. सूत्रों के अनुसार, रघुवर दास बीजेपी के बड़े नेताओं से मुलाकात के बाद शाम को रांची लौट जाएंगे. 

गौरतलब है कि बीते झारखंड विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 37 और आजसू को 5 सीटों पर जीत दर्ज मिली थी. इसके बाद दोनों दलों ने राज्य में गठबंधन की सरकार बनाई और इसका नेतृत्व रघुवर दास कर रहे हैं.