close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तेजस्वी यादव ने बुलाई आरजेडी की अहम बैठक, नहीं पहुंचे भाई वीरेंद्र, तेजप्रताप भी नदारद

तेजस्वी यादव ने आरजेडी की अहम बैठक बुलाई थी. जिसमें प्रदेश के 11 जिलों के सभी विधायक, जिलाध्यक्ष, युवा अध्यक्ष और प्रभारियों को बुलाया गया था. 

तेजस्वी यादव ने बुलाई आरजेडी की अहम बैठक, नहीं पहुंचे भाई वीरेंद्र, तेजप्रताप भी नदारद
तेजस्वी यादव ने आरजेडी की बैठक बुलाई थी. (फोटो साभारः Twitter)

पटनाः आगामी चुनाव को लेकर बैठक शुरू हो गई है. रविवार को तेजस्वी यादव ने आरजेडी की अहम बैठक बुलाई थी. जिसमें प्रदेश के 11 जिलों के सभी विधायक, जिलाध्यक्ष, युवा अध्यक्ष और प्रभारियों को बुलाया गया था. निश्चित तौर पर यह बैठक आगामी लोकसभा चुनाव की रणनीति को लेकर था. लेकिन इस बैठक में भाई वीरेंद्र नहीं पहुंचे थे. वहीं, बड़े भाई तेजप्रताप यादव भी बैठक से नदारद दिखे.

आरजेडी आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गया है. लेकिन आरजेडी के अंदर भी खलबली मची हुई है. पाटलिपुत्र सीट को लेकर हाल ही में भाई वीरेंद्र और तेजप्रताप यादव के बीच बयानबाजी युद्ध हुई थी. जिसके बाद भाई वीरेंद्र ने राबड़ी देवी से मुलाकात की थी. वहीं, आज आरजेडी की अहम बैठक में वह शामिल नहीं हुए. जिससे पार्टी के अंदर चल रही नेताओं की नाराजगी साफ दिख रहा है.

हालांकि भाई वीरेंद्र ने बैठक में शामिल नहीं होने को लेकर कहा है कि उन्होंने पहले ही इसकी जानकारी तेजस्वी यादव को दे दी थी. उन्होंने कहा कि एक दुर्घटना हो जाने की वजह से बैठक में नहीं जा सकेंगे यह जानकारी दे दी थी.

Tejashwi Yadav meet to RJD MLA And other leaders

वहीं, तेजप्रताप यादव भी पार्टी की अहम बैठक में शामिल नहीं हुए. तेजप्रताप इन दिनों लगातार जनता दरबार लगाकर लोगों से मिलने का काम कर रहे हैं. खुद ही कह रहे हैं कि चुनाव की तैयारी में लगे हैं. लेकिन खुद ही पार्टी की अहम बैठक में नहीं पहुंचे. यह बैठक साफ तौर पर लोकसभा चुनाव को लेकर था. ऐसे में पार्टी में सब कुछ ठीक नहीं होने का सवाल खड़ा कर रहा है.

बताया जा रहा है कि आरजेडी की अहम बैठक में सभी विधायकों, जिलाध्यक्ष, युवा अध्यक्ष और प्रभारियों से उनके क्षेत्र को लेकर फीडबैक लिया गया. वहीं, पार्टी को मजबूत करने के लिए आवश्यक निर्देश भी दिए गए. साथ ही बूथ स्तर पर पार्टी को मजबूत करने के लिए कहा गया है.