लॉकडाउन में नहीं बर्दाश्त हुई जुदाई, गुस्साई प्रेमिका ने पुलिस से लगाई गुहार- मेरी शादी करवाओ, जानें फिर क्या हुआ

लॉकडाउन के दौरान तरह-तरह के मामले सामने आ रहे हैं, लेकिन बैतूल के भैंसदेही का यह मामला काफी दिलचस्प है..पढ़िए पूरी खबर...

लॉकडाउन में नहीं बर्दाश्त हुई जुदाई, गुस्साई प्रेमिका ने पुलिस से लगाई गुहार- मेरी शादी करवाओ, जानें फिर क्या हुआ
शादी के बाद प्रेमी जोड़ा एक साथ...

बैतूल: कोरोना कहर के बीच मध्य प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू लागू है. लोग घरों में कैद हैं. इसी बीच बैतूल जिले से एक रोचक मामला सामने आया है, यहां लॉकडाउन की वजह से तंग आकर एक प्रेमिका शादी की जिद पर अड़ गई और उसने डायल 100 को फोन घुमा दिया. आगे जो हुआ वो तो और दिलचस्प है..

अपने प्रेमी के साथ शादी की जिद पर अड़ी युवती ने इस कदर हंगामा मचाया कि मौके पर पहुंची पुलिस ने उसके प्रेमी को पकड़ा और दोनों की मंदिर से शादी करवानी पड़ गई. जब जब तक प्रेमिका ने अपने प्रेमी को वरमाला नहीं पहना दी, तब तक उसने सभी को परेशान करके रखा. शादी के बाद परिजन और पुलिस ने राहत की सांस ली. 

क्या है पूरा मामला ?
यह मामला बैतूल के भैंसदेही का है. यह प्रेमी जोड़ा लंबे समय से अपनी शादी का जतन कर रहा था, लेकिन कोरोना कर्फ्यू लागू होने के चलते सख्त होते नियमों की वजह से शादी नहीं हो रही थी. इससे परेशान प्रेमिका ने शादी की ऐसी जिद पकड़ी की खुद पुलिस को मंदिर में दोनों की शादी करवानी पड़ गयी. 

परिजन क्या चाहते थे?
प्रेमी जोड़ा भैंसदेही के धाबा ग्राम पंचायत के रहने वाला है. लड़की का नाम नेहा कुमरे और लड़के का नाम पवन कंगाले है. दोनों के परिजन चाहते थे कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद धूमधाम से शादी करेंगे, लेकिन लड़की की जिद के आगे उन्हें झुकना पड़ा. 

माता-पिता की सहमति के बाद पुलिस ने कराई शादी
भैंसदेही थाने की महिला डेक्स प्रभारी सुमन मिश्रा ने बताया कि धाबा ग्राम के दो प्रेमी अपनी मरजी से शादी करना चाहते थे. इसके लिए उन्होंने डायल हंड्रेड को सूचना दी थी. जिसके बाद दोनों के माता-पिता को थाने में बुलाकर उन से चर्चा की गई. माता-पिता की सहमति के बाद ही दोनों का विवाह पुलिस प्रशासन द्वारा किया गया ताकि कोई अप्रिय घटना ना घटे. 

पिछले 3 साल से चल रहा था प्रेम प्रसंग
पुलिस के अनुसार पिछले 3 साल से दोनों के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था. प्रेमिका अपने प्रेमी के अलावा अन्य किसी से विवाह नहीं करना चाहती थी. इसलिए दोनों परिवार की सहमति के बाद पुलिस प्रशासन द्वारा रीति-रिवाज से उनका विवाह कराया गया.

ये भी पढ़ें: MP में लगातार कम हो रहे मरीज: 24 घंटे में 7,016 नए केस, 79 की मौत, इन 7 जिलों में बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू

WATCH LIVE TV