close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झाबुआ विधानसभा उपचुनाव 2019: हीरालाल अलावा के तेवर पड़े नरम, अब कही ये बात

विधायक अलावा ने कहा कि सरकार हमारी मांग से सहमत होती है तो, सरकार के साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे.

झाबुआ विधानसभा उपचुनाव 2019: हीरालाल अलावा के तेवर पड़े नरम, अब कही ये बात
जयस के राष्ट्रीय संरक्षक और विधायक डॉ. हीरालाल अलावा ने रविवार को कहा कि झाबुआ विधानसभा उपचुनाव में प्रत्याशी नहीं उतारा जाएगा.

भोपाल: मध्य प्रदेश की झाबुआ विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए चुनाव आयोग ने तारीख तय कर दी है. इन सबके बीच मध्य प्रदेश में कांग्रेस के सहयोगी जय आदिवासी युवा संगठन (जयस) ने झाबुआ विधानसभा उपचुनाव में अपना प्रत्याशी उतारने की बात कहकर राजनीतिक गलियारे में हड़कंप मचा दिया था. वहीं, अब जयस के राष्ट्रीय संरक्षक और विधायक डॉ. हीरालाल अलावा ने इस मामले पर अपने कदम पीछे खींच लिए हैं. इसे कांग्रेस के लिए एक बड़ी राहत की खबर माना जा रहा है.

जयस के राष्ट्रीय संरक्षक और विधायक डॉ. हीरालाल अलावा ने रविवार को कहा कि झाबुआ विधानसभा उपचुनाव में प्रत्याशी नहीं उतारा जाएगा. हीरालाल अलावा ने कहा कि कांग्रेस अगर झाबुआ विधानसभा क्षेत्र से जयस समर्थित युवा को टिकट देती है तो, कांग्रेस आसानी से चुनाव जीत सकती है. इसके साथ ही उन्होंने कमलनाथ सरकार से मांग की है कि सरकार को झाबुआ, अलीराजपुर, धार क्षेत्र से युवाओं का पलायन रोकने, नई रेत नीति में आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र में निजी कंपनियों के बजाय युवाओं को प्राथमिकता देने, आदिवासी क्षेत्र की योजनाओं में राशि का सही इस्तेमाल करने और 5वीं अनुसूची को लागू करना चाहिए. 

 

विधायक अलावा ने कहा कि सरकार हमारी मांग से सहमत होती है तो, सरकार के साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि सीएम कमलनाथ ने कहा है कि वे हमारी मांगे मानेंगे. बातचीत के लिए सीएम कमलनाथ ने जयस की पूरी टीम को बुलाया है.