MP Politics: 2023 चुनाव को लेकर हिंदुत्व एजेंडे पर फोकस ? Uniform Civil Code पर BJP-कांग्रेस में ठनी
topStories1rajasthan1466999

MP Politics: 2023 चुनाव को लेकर हिंदुत्व एजेंडे पर फोकस ? Uniform Civil Code पर BJP-कांग्रेस में ठनी

Uniform Civil Code in Madhya Pradesh: यूनिफॉर्म सिविल कोड को लेकर कांग्रेस पार्टी ने कहा बीजेपी, बेरोजगारी और अन्य मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए ऐसी बातें कर रही हैं.वहीं इसको लेकर बीजेपी ने कांग्रेस पर निशाना साधा.

MP Politics: 2023 चुनाव को लेकर हिंदुत्व एजेंडे पर फोकस ? Uniform Civil Code पर BJP-कांग्रेस में ठनी

आकाश द्विवेदी/भोपाल: मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Madhya Pradesh Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) के समान नागरिक संहिता को लेकर बड़ा बयान देने के बाद, यूनिफॉर्म सिविल कोड को लेकर मध्यप्रदेश में सियासत तेज हो गई है.कांग्रेस ने कहा कि चुनावों की आहट के साथ बीजेपी घबराहट में मुख्य मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए संवेदनशील मुद्दों पर बात कर रही है. कांग्रेस ने कहा कि यह केंद्र सरकार का मुद्दा है और इस पर केंद्र सरकार को निर्णय लेना है. राज्य सरकार का कोई लेना-देना नहीं, लेकिन बेरोजगारी भ्रष्टाचार का हिसाब देने से बचने के लिए इस मुद्दे को रखा जा रहा है. जब यूनिफॉर्म सिविल कोड का मुद्दा सामने आएगा तो कांग्रेस जनहित में अपना पक्ष रखेगी.

कांग्रेस करती है तुष्टिकरण की राजनीति:बीजेपी
कांग्रेस के आरोपों का पलटवार करते हुए बीजेपी ने कांग्रेस पर तुष्टिकरण की राजनीति का आरोप लगाया है.बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस हमेशा तुष्टीकरण की राजनीति करती है. पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा था कि रिसोर्सेज पर पहला अधिकार मुस्लिमों का है. बीजेपी ने कहा कि जनसंघ और भारतीय जनता पार्टी हमेशा मेनिफेस्टो में यूनिफॉर्म सिविल कोड की बात की है. यह आज के समय की जरूरत भी है. कानून व्यवस्था सभी के लिए एक समान होनी चाहिए. ट्रिपल तलाक बीजेपी की सरकार ने लागू किया, अगर यूनिफॉर्म सिविल कोड पहले लागू होता तो महिलाएं इतना परेशान नहीं होतीं.

राष्ट्रवाद के एजेंडे पर BJP का फोकस 
मध्य प्रदेश में समान नागरिक संहिता को लेकर वरिष्ठ पत्रकार डॉ. सत्य प्रकाश शर्मा का कहना है कि बीजेपी देश भर में 2023 और 2024 के चुनाव को देखते हुए राष्ट्रवाद के एजेंडे पर फोकस कर रही है. गुजरात और उत्तराखंड के बाद मध्यप्रदेश में इसका ऐलान होना, यह बताता है कि मध्य प्रदेश का अगला चुनाव हिंदुत्व के एजेंडे पर लड़ा जाएगा. कुछ मामलों में ऐसी चीजें जरूरी भी हैं, लेकिन सब की आस्थाएं बरकरार रखते हुए.

Trending news