अमरोहा: धड़ल्ले से हो रहा था मिलावटी दूध का कारोबार, छापेमारी के बाद हुआ खुलासा

आरोप है कि जिले में दूध माफिया बेखौफ होकर ढाबों से दूध की चोरी करते थे और फिर मिलावट कर उसे गाड़ियों के जरिए बाज़ार में बेच देते थे.

अमरोहा: धड़ल्ले से हो रहा था मिलावटी दूध का कारोबार, छापेमारी के बाद हुआ खुलासा
खाद्य विभाग की टीम की मौजूदगी में एसडीएम ने बरामद दूध को नष्ट करवाया.

अमरोहा: सफेद दूध के काले कारोबारियों पर नकेल कसने के लिए जिला प्रशासन का अभियान जारी है. गजरौला (Gajraula) इलाके में छापेमारी करते हुए प्रशासन की टीम ने 5000 लीटर दूध के साथ एक टैंकर जब्त किया है. हालांकि इस दौरान आरोपी भागने में कामयाब हो गए.

मिली जानकारी के मुताबिक, जिले में दूध माफिया बेखौफ होकर ढाबों से दूध की चोरी करते थे और फिर मिलावट कर उसे गाड़ियों के जरिए बाज़ार में बेच देते थे. बताया जा रहा है कि ये सब पिछले लंबे वक्त से चल रहा था, जिसके बाद स्थानीय लोगों की ओर से इसकी जानकारी प्रशासन को मिली और प्रशासन ने खाद्य विभाग की टीम के साथ छापेमार कार्रवाई की. 

टीम ने गजरौला हसनपुर मार्ग पर मौजूद ढाबों में छापेमारी करते हुए एक दूध का टैंकर बरामद किया. जिसमें लगभग 5000 लीटर दूध था. खाद्य विभाग की टीम की मौजूदगी में एसडीएम हसनपुर उद्धव त्रिपाठी ने बरामद दूध को नष्ट करवाया.

साथ ही खाद्य विभाग की टीम ने दूध के सैंपल भी लिए हैं. एसडीएम का मानना है कि दूध में मिलावट भी हो सकती है, ऐसे में जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी. इस दौरान एसडीएम ने आश्वस्त किया कि किसी प्रकार के माफिया को पनपने नहीं दिया जाएगा. जैसे ही हमें सूचना मिलेगी हम लोग तत्काल कार्रवाई करेंगे.