सेना में नौकरी के लिए निकाली शातिर तरकीब, कर दी एक गलती और खुल गया भेद

क्षेत्र अधिकारी ने बताया कि सेना भर्ती के दौरान दो युवकों को हिरासत में लिया गया है. जिन्होंने अपनी जगह पर दूसरे लड़कों का फिजिकल टेस्ट करवाया.

सेना में नौकरी के लिए निकाली शातिर तरकीब, कर दी एक गलती और खुल गया भेद
क्षेत्र अधिकारी ने बताया कि दोनों जनपद खुर्जा के रहने वाले हैं. दोनों से पूछताछ की जा रही है.

फर्रूखाबाद: भारतीय फौज में शामिल होने के लिए चल रही भर्ती प्रक्रिया पास करने के लिए फर्जीवाड़े की तरकीब का भंडाफोड हुआ है. यहां दो युवकों ने नौकरी पाने के लिए अपनी जगह सेना भर्ती में किसी और को दौड़ा दिया. लेकिन सैन्य अधिकारियों की मुस्तैदी से मामले का खुलासा हो गया.

दरअसल, फर्रुखाबाद में इन दिनों राजपूत रेजीमेंट सेंटर में आगरा के बीआरओ द्वारा भर्ती प्रक्रिया जारी है. मंगलवार को लखीमपुर खीरी और बलरामपुर के युवाओं की भर्ती होनी थी. जिसमें 12,000 युवाओं ने आवेदन किया था. बताया जा रहा है कि खुर्जा के रहने वाले दो युवक संजीव और राजीव भाटी की जगह दौड़ में दो युवक दौड़े. फिजिकल टेस्ट पास करने के बाद दोनों यहां से निकल गए. इसी दौरान संजीव और राजीव भाटी फिजिकल टेस्ट पास करने वाले युवाओं के ग्रुप में शामिल हो गए.

लेकिन, सेना के अधिकारियों की ओर से लगाई जाने वाली मुहर से दोनों संदेह के घेरे में आ गए. जब सेना के अधिकारियों ने मुहर की जांच की तो, उनके हाथ पर मुहर ना पाकर दोनों को साइड बैठा दिया गया. पूछताछ में पता चला कि उनकी जगह पर कोई और सेना भर्ती में दौड़ रहा था. जिसके बाद सेना के अधिकारियों ने इन दोनों को फतेहगढ़ कोतवाली पुलिस के हवाले कर दिया.

मामले पर क्षेत्र अधिकारी ने बताया कि सेना भर्ती के दौरान दो युवकों को हिरासत में लिया गया है. जिन्होंने अपनी जगह पर दूसरे लड़कों का फिजिकल टेस्ट करवाया. क्षेत्र अधिकारी ने बताया कि दोनों जनपद खुर्जा के रहने वाले हैं. दोनों से पूछताछ की जा रही है और मामले के तार किसी गैंग से जुड़े होने की संभावना को भी तलाशा जा रहा है.