close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाक से जंग में राफेल इतना जरूरी है तो 5 साल में क्‍यों नहीं ला सके? मायावती का BJP पर हमला

भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी को पीओके में घुसकर 12 मिराज लड़ाकू विमानों से करीब 1000 किग्रा बम बरसाए थे. पीएम मोदी ने जताई थी राफेल की उपयोगिता की कमी.

पाक से जंग में राफेल इतना जरूरी है तो 5 साल में क्‍यों नहीं ला सके? मायावती का BJP पर हमला
मायावती ने साधा निशाना. फाइल फोटो

नई दिल्‍ली : पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायुसेना की ओर से पाकिस्‍तान अधिकृत कश्‍मीर (पीओके) में की गई एयर स्‍ट्राइक पर बसपा प्रमुख मायावती ने सोमवार को बीजेपी और केंद्र सरकार पर निशाना साधा. मायावती ने सोमवार को ट्वीट किया, 'पीएम श्री मोदी का रैलियों में कहना है कि पाक के साथ लड़ाई में राफेल विमान बहुत काम आ सकता था. ऐसी बात थी तो पिछले 5 वर्षों के इनके शासन में एक भी राफेल विमान क्यों नहीं भारतीय बेड़े में शामिल किया गया? बीजेपी द्वारा भी देश की रक्षा व सुरक्षा के साथ ऐसा खिलवाड़ क्यों?

 

 

 

बता दें कि 2 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक कार्यक्रम में कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा था कि देश लड़ाकू विामन राफेल की कमी महसूस कर रहा है और अगर भारत के पास ये लड़ाकू विमान होते तो कुछ और ही बात होती. उन्होंने कहा था, ‘‘राफेल पर स्वार्थनीति और अब राजनीति के कारण देश का बहुत नुकसान हुआ. राफेल की कमी आज देश ने महसूस की है. आज हिंदुस्तान एक स्वर में कह रहा है कि अगर हमारे पास राफेल होता, तो क्या होता?’’ 

मंगलवार को संसद में पेश की जाएगी राफेल जेट सौदे पर CAG की रिपोर्ट

बता दें कि 14 फरवरी को जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी को पाकिस्‍तान अधिकृत कश्‍मीर में घुसकर 12 मिराज लड़ाकू विमानों से करीब 1000 किग्रा बम बरसाए थे. यह हवाई कार्रवाई पुलवामा हमले को अंजाम देने वाले पाकिस्‍तान समर्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद के ठिकानों पर बरसाए गए थे. इनमें 200 से अधिक आतंकियों के मारे जाने का दावा किया गया है.