close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लखनऊ: पुलिस चौकी के पास भरे बाजार में बदमाशों ने व्यवसायी की गोली मारकर हत्‍या

पुलिस के मुताबिक, हत्या की वजह पुरानी रंजिश और लाखों रुपये की लेनदेन बताई जा रहा है. 

लखनऊ: पुलिस चौकी के पास भरे बाजार में बदमाशों ने व्यवसायी की गोली मारकर हत्‍या
प्रतीकात्मक तस्वीर

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बदमाशों के हौसले बुलंद हैं. आलमबाग के चंदरनगर पुलिस चौकी के पास बुधवार (09 जनवरी) की रात बाजार में बीचो-बीच बदमाशों ने कपड़ा कारोबारी अमनप्रीत सिंह को गोली मार दी. घटना के बाद आसपास के व्यापारियों ने पुलिस को जानकारी दी और घायल को अस्पताल में भर्ती कराया. पुलिस के मुताबिक, हत्या की वजह पुरानी रंजिश और लाखों रुपये की लेनदेन बताई जा रहा है. 

पूरा मामला आलमबाग थाना क्षेत्र के चंदन नगर का है, जहां बेखौफ बदमाशों ने कपड़ा व्यापारी अमनप्रीत को दुकान के अंदर घुसकर गोली मार दी. जानकारी के मुताबिक, घटना को अंजाम देने के बाद बेखौफ बदमाश मौके से पैदल ही भाग निकले. घटना के बाद आस-पास के दुकानदारों ने पुलिस को दी और घायल व्यापारी अमनप्रीत को लोकबंधु अस्पताल पहुंचाया, जहां उसकी हालत गंभीर देखते हुए डॉक्टरों ने उसे ट्रामा सेंटर के लिए रेफर कर दिया. ट्रामा सेंटर में इलाज के दौरान व्यापारी की मौत हो गई. 

घटना के बाद अब पुलिस इस घटना को पुरानी रंजिश मानकर आरोपियों की तलाश कर रही है. एसपी पूर्वी सर्वेश कुमार का कहना है कि अमनप्रीत की हत्या पुरानी रंजिश और रुपयों के लेनदेन को लेकर हुई है. साथ ही बताया कि हत्या को उस वक्त अंजाम दिया गया, जब मृतक दुकान बंद कर घर जाने की तैयारी कर रहा था. 

पुलिस का कहना है कि घटना में कुछ लोगों के नाम चिन्हित किए गए हैं. जल्द ही उन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ की जाएगी. पुलिस ने बताया कि इस घटना में पाली, सोनू और राजू सरदार नामक आरोपियों के नाम सामने आए हैं, जिनकी तलाश की जा रही है.

पुलिस ने बताया कि कपड़ा कारोबारी अमनप्रीत पूर्व में कई बार शराब तस्करी के मामले में जेल जा चुका है. पुलिस के मुताबिक, अमनप्रीत हरियाणा से शराब की तस्करी कर यहां लाता था और छोटे दुकानदारों में बिक्री करता था. दो साल पहले वह आलमबाग से जेल गया था. करीब पांच साल पहले नकली मोबिल आयल के साथ पकड़े जाने में भी जेल भेजा गया था. पुलिस अब रंजिश, शराब तस्करी और रुपयों के विवाद समेत कई बिंदुओं पर मामले की पड़ताल कर रही है.