खुले में शौच मुक्त होने वाला उत्तराखंड का पहला शहर बना टिहरी का चम्बा

चम्बा नगर पालिका ने खुले में शौच मुक्त यानि ओडीएफ प्लस-प्लस (ODF++) का तमगा हासिल किया है. और ऐसा करने वाला चम्बा प्रदेश का पहला शहर बन गया है.

खुले में शौच मुक्त होने वाला उत्तराखंड का पहला शहर बना टिहरी का चम्बा
चम्बा नगर पालिका ने खुले में शौच मुक्त यानि ओडीएफ प्लस-प्लस (ODF++) का तमगा हासिल किया है

मुकेश पंवार/टिहरी: उत्तराखंड में टिहरी जनपद के चम्बा नगर पालिका ने बड़ी छलांग लगाई है. चम्बा नगर पालिका ने खुले में शौच मुक्त यानि ओडीएफ प्लस-प्लस (ODF++) का तमगा हासिल किया है. ऐसा करने वाला चम्बा प्रदेश का पहला शहर बन गया है. इसके साथ ही स्वच्छ सर्वेक्षण में चम्बा को बोनस के रूप में 500 अंक भी मिलेंगे.

अब क्लीन पालिका बनाने का रहेगा लक्ष्य
खास बात यह है कि ओडीएफ प्लस-प्लस के लिए चम्बा पालिका के साथ सिर्फ देहरादून नगर निगम ही आवेदन कर पाया. इसमें चम्बा नगर पालिका ने देहरादून को पछाड़कर बाजी मार ली है. अव्वल आने पर चम्बा नगर पालिका अध्यक्ष सुमना रमोला ने खुशी जाहिर की है. उन्होंने इसका श्रेय पालिका के कर्मियों की मेहनत को दिया है, साथ ही जनता का आभार भी जताया. पालिकाध्यक्ष का कहना है कि प्रदेश में चम्बा पालिका ने ओडीएफ प्लस प्लस में पहला स्थान हासिल कर जिले में ही नहीं बल्कि प्रदेशभर में अपना नाम रोशन किया. अब हमारा प्रयास रहेगा क्लीन पालिका बनाने का.

2 साल की मेहनत का मिला परिणाम
चम्बा शहर ओडीएफ प्लस-प्लस घोषित होने पर पालिका के अधिशासी अधिकारी एस.पी. जोशी का कहना है कि, 'हमारी 2 साल की मेहनत थी. जिसका परिणाम हमारी पालिका को मिल गया है.'  उन्होंने कहा कि, 'ओडीएफ प्लस के बाद ओडीएफ प्लस प्लस के लिए आवेदन किया गया था. जिस पर भारत सरकार की टीम ने अपने स्तर पर यह सर्वेक्षण किया है. इसके तहत शहर की स्वच्छता से संबंधित तमाम पहलुओं पर पड़ताल की जाती है. जिसमें खासकर शौचालयों की स्थिति व सीवर निस्तारण की व्यवस्था देखी जाती है. इन सभी पहलुओं पर चम्बा उपयुक्त पाया गया.' अधिशासी अधिकारी के मुताबिक उनका अगला फोकस चम्बा शहर को नंबर 1 स्वच्छ शहर बनाना है.

स्वच्छता पर खरा उतरने का दावा
ओडीएफ प्लस-प्लस के तहत प्रदेशभर में चम्बा पालिका का नंबर एक आना किसी संजीवनी से कम नहीं है. ये तमगा हासिल करने के बाद पालिका और भी जोश-खरोश के साथ स्वच्छता पर खरा उतरने का दावा कर रही है. गौर करने वाली बात यह भी होगी कि टिहरी जनपद का एक मात्र केंद्र बिंदु चम्बा नगर पालिका है, जो कि चारधाम यात्रा का मुख्य पड़ाव भी है. इस लिहाज से चम्बा नगर पालिका क्लीन सिटी के दावे पर कितनी खरी उतरती है ये तो आने वाले सर्वेक्षणों में ही पता चलेगा.