अयोध्या में लगेगी दुनिया की सबसे ऊंची श्रीराम की मूर्ति, जानें मंदिर परिसर में क्या-क्या होगा

अयोध्या में सिर्फ राम मंदिर ही भव्य नहीं बनेगा, पूरी अयोध्या के कायाकल्प की तैयारी हो रही है. अद्भुत और आधुनिक अयोध्या बनाने की तैयारी प्रशासन और सरकार की ओर से शुरू हो चुकी है.

अयोध्या में लगेगी दुनिया की सबसे ऊंची श्रीराम की मूर्ति, जानें मंदिर परिसर में क्या-क्या होगा
वर्ल्ड क्लास अयोध्या के लिए ब्लूप्रिंट तैयार कर लिया गया है

अयोध्या: अयोध्या में श्रीराम मंदिर (Ram Temple) के निर्माण की घड़ी आ गई है. इसे लेकर देश ही नहीं पूरी दुनिया के रामभक्तों में गजब का उत्साह है. कहा तो ये भी जा रहा है कि इस बार की रामनवमी के दिन रामलला टेंट से निकलकर सोने के गर्भगृह में विराजमान हो जाएंगे. जाहिर है रामलला का वनवास खत्म होते ही रामनगरी के भी सुनहरे दिन आने वाले हैं. हालांकि कल तक हर हाल में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का फैसला मानने का दावा करने वालों में कुछ मुट्ठी भर लोग अब उसी फैसले पर सवाल उठाने लगे हैं. शरियत का हवाला दिया जा रहा है. सुप्रीम कोर्ट ने मस्जिद के लिए जिस 5 एकड़ जमीन देने की बात कही है, उसे लेने से इनकार किया जा रहा है.

रामलला को रामनवमी पर सोने के गर्भगृह में ले जाने की तैयारी हो रही है. अयोध्या में भव्य राम मंदिर के लिए एक ओऱ केन्द्र सरकार ट्रस्ट के गठन की तैयारी कर रही है तो साधु संतों ने राम मंदिर के लिए शुभ मुहूर्त का ऐलान कर दिया है. अयोध्या के साधु संतों का कहना है कि 25 मार्च हिंदू नववर्ष या 2 अप्रैल चैत्र रामनवमी राम मंदिर के शिलान्यास के लिए शुभ दिन है. 

अयोध्या में अद्भुत, अलौकिक, अविस्मरणीय राम मंदिर! 
रामलला के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येन्द्र दास का कहना है कि पिछले 3 दशकों से आप औऱ हम राममंदिर के इस मॉडल को देखते आ रहे हैं और अब जब ये मॉडल उस जगह पर मंदिर का रूप प ले लेगा जिस जगह पर मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम का जन्म हुआ था. 

अयोध्या में प्रस्तावित राम मंदिर की लंबाई 268 फीट होगी. इस मंदिर की चौड़ाई 140 फीट होगी जबकि इसकी उंचाई 128 फीट होगी. श्री राम मंदिर दो मंजिला भवन होगा जिसकी पहली मंजिल पर 106 स्तंभ होंगे जबकि दूसरी मंजिल पर भी 106 स्तंभ होंगे. मंदिर में तीन मंडप होंगे. सिंह मंडप, रंग मंडप और कोली मंडप. गर्भगृह के चारों तरफ एक परिक्रमा मार्ग बनाया जाएगा जिसकी चौड़ाई 10 फीट होगी. इस मंदिर के निचने तल पर रामलला विराजमान होंगे. जबकि प्रथम तल पर राम दरबार यानि श्रीराम माता सीता लक्ष्मण और हनुमान जी की मूर्ति स्थापित होगी.

देखें वीडियो: 

ऐसा होगा श्रीराम का धाम: 

1.  अयोध्या में दुनिया की सबसे ऊंची श्रीराम मूर्ति (251 मीटर) लगेगी
2.  अयोध्या में अगले साल दुनिया के सबसे भव्य मंदिर की तैयारी
3.  अयोध्या में क्रूज चलाने की तैयारी, जलमार्ग का काम शुरू
4.  अयोध्या में 10 श्रीराम द्वार बनाए जाएंगे
5.  अयोध्या में अप्रैल तक एयरपोर्ट निर्माण की तैयारी
6.  अयोध्या में मई 2020 तक फ्लाइट की शुरुआत
7.  अयोध्या में 100 करोड़ की लागत से मंदिर जैसा रेलवे स्टेशन
8.  दिसंबर 2019 से अयोध्या में फाइव स्टार होटल्स का निर्माण शुरू
9.  अयोध्या में भगवान श्रीराम  से जुड़े सभी कुंड का पुनर्निमाण होगा
10.  अयोध्या तीर्थ विकास परिषद का गठन होगा

पूरी अयोध्या के कायाकल्प की तैयारी
अयोध्या में सिर्फ राम मंदिर ही भव्य नहीं बनेगा, पूरी अयोध्या के कायाकल्प की तैयारी हो रही है. अद्भुत और आधुनिक अयोध्या बनाने की तैयारी प्रशासन और सरकार की ओर से शुरू हो चुकी है. वर्ल्ड क्लास अयोध्या के लिए ब्लूप्रिंट तैयार कर लिया गया है. अयोध्या में भव्य मंदिर के साथ-साथ सरयू में क्रूज चलाने की तैयारी है. इंटरनेशनल एयरपोर्ट, वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड, पांच प्रमुख शहरों का धार्मिक सर्किट और देश का सबसे बड़ा धार्मिक स्थल अयोध्या होगा. राम मंदिर के निर्माण से अयोध्या पूरी तरह से  बदल जाएगी. अयोध्या की अर्थव्यवस्था बदल जाएगी.