UP में जातीय दंगे कराने की साजिश की जांच तेज, STF ने तीन जिलों में डाला डेरा

 हाथरस कांड के बहाने यूपी में जातीय दंगे कराने की साजिश के मामले में जांच के लिए एसटीएफ की स्पेशल यूनिट ने हाथरस, मथुरा व अलीगढ़ में डेरा डाल दिया है. 

UP में जातीय दंगे कराने की साजिश की जांच तेज, STF ने तीन जिलों में डाला डेरा
सांकेतिक तस्वीर.

हाथरस: उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स (STF) ने हाथरस कांड के बहाने राज्य में जातीय व सांप्रदायिक दंगों की साजिश रचने के मामले में अपनी जांच तेज कर दी है. छानबीन के लिए एसटीएफ की स्पेशल यूनिट ने हाथरस, मथुरा व अलीगढ़ में डेरा डाल दिया है. बीते गुरुवार को एसटीएफ की एक टीम ने हाथरस के बूलगढ़ी गांव का निरीक्षण किया और स्थानीय पुलिस से देशद्रोह समेत अन्य धाराओं में दर्ज कराए गए मुकदमों में अब तक सामने आए तथ्यों की जानकारी ली.

दाढ़ी पर बवाल, दारोगा को सस्पेंड करने पर भड़का मुस्लिम समुदाय, कर रहा ये मांग

एसटीएफ की एक अन्य टीम ने मथुरा पुलिस से 5 अक्टूबर को गिरफ्तार किए गए पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (Popular Front of India) और कैंपस फ्रंट ऑफ इंडिया (Campus Front of India) के चारों सदस्यों के बारे में पूरी जानकारी हासिल की है. सूत्रों की मानें तो पीएफआई-सीएफआई एजेंटों के खिलाफ दर्ज एफआईआर व उनके पास से बरामद किए गए चीजों से जुड़े तथ्यों की जानकारी जुटाने के बाद अब एसटीएफ चारों आरोपितों को रिमांड में लेकर पूछताछ की तैयारी कर रही है. एसटीएफ जल्द रिमांड के लिए कोर्ट में अर्जी दाखिल करेगी. 

बाहुबली अतीक अहमद को सता रहा 'गाड़ी पलटने' का डर, पेशी पर नहीं आना चाहता UP

हाथरस प्रकरण को लेकर अलीगढ़ में दर्ज मुकदमे का ब्योरा जुटाने के बाद एसटीएफ ने संदेह के घेरे में आए कुछ लोगों की भूमिका की छानबीन शुरू की है. साजिश की तह तक पहुंचने के लिए एसटीएफ सोशल मीडिया के कई अकाउंट्स का ब्योरा भी खंगाल रही है. साथ ही 'जस्टिस फॉर हाथरस' वेबसाइट के बारे में भी जानकारियां जुटा रही है, जिसके जरिए यूपी में माहौल बिगाड़ने के लिए भड़काऊ कॉन्टेंट वायरल किए गए थे. इसके अलावा विदेशी फंडिंग मामले में एसटीएफ पीएफआई व उसके स्टूडेंट विंग सीएफआई के बैंक खातों का ब्योरा भी जुटा रही है.

WATCH LIVE TV