स्वास्थ्य विभाग के ऑनलाइन पोर्टल पर दर्ज करना होगा पोस्ट कोविड बेड का ब्योरा, आदेश जारी

कोविड के लक्षण या बिना लक्षण वाले वो मरीज शामिल होंगे जिनकी पास बीते 2 महीने में हुई आरटीपीसीआर, एंटीगेन रिपोर्ट या एक्स रे, सीटी स्कैन उपलब्ध हो. पोस्ट कोविड मरीजों को भर्ती कराने में कोविड कमांड सेंटर करेगा मदद

स्वास्थ्य विभाग के ऑनलाइन पोर्टल पर दर्ज करना होगा पोस्ट कोविड बेड का  ब्योरा, आदेश जारी
सोशल मीडिया

मयूर शुक्ला/लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार कोरोना से लड़ने के लिए कई कदम उठा रही है. सरकार कोरोना संक्रमितों के साथ ही पोस्ट कोविड मरीजों के इलाज का मुकम्मल इंतजाम कर रही है. किसी भी व्यक्ति को इलाज में कोई परेशानी न हो इसके लिए सरकार की तरफ से संसाधनों का भरपूर इंतजाम किया गया है.

प्रेमिका की मौत के बाद प्रेमी की भरी पंचायत में जमकर पिटाई, 5 साल के लिए गांव से निकाला

ऑनलाइन पोर्टल पर दर्ज करना होगा पूरा ब्योरा 
अब पोस्ट कोविड बेड का स्वास्थ्य विभाग के ऑनलाइन पोर्टल पर पूरा ब्योरा दर्ज करना होगा. कोविड 19 की नोडल अधिकारी रोशन जैकब ने सभी मेडिकल कालेजों और निजी अस्पतालों को आदेश जारी कर दिया है. कोविड के लक्षण या बिना लक्षण वाले वो मरीज शामिल होंगे जिनकी पास बीते 2 महीने में हुई आरटीपीसीआर, एंटीगेन रिपोर्ट या एक्स रे, सीटी स्कैन उपलब्ध हो. पोस्ट कोविड मरीजों को भर्ती कराने में कोविड कमांड सेंटर करेगा मदद

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदार यह सुनिश्चित करें कि जहां भी कोविड और पोस्ट कोविड इलाज के लिए अस्पताल या वार्ड निर्माण का कार्य चल रहा है, उसे जल्दी से जल्दी पूरा किया जाए. 

मरीजों को निशुल्क इलाज उपलब्ध कराने का आदेश
वहीं यूपी में कोरोना संक्रमण से ठीक होने के बाद मरीजों को तेजी से हो रही पोस्ट कोविड की समस्याओं को देखते हुए प्रदेश सरकार ने ऐसे मरीजों को निःशुल्क इलाज उपलब्ध कराने का आदेश जारी किया है. इस आदेश के चलते अब कोविड मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद भी यदि उनमें पोस्ट कोविड जैसी समस्या दिखती है, तो उस मरीज को अस्पताल प्रशासन की ओर से निःशुल्क इलाज उपलब्ध कराया जाएगा.

मंगलवार को चिकित्सा शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव आलोक कुमार की ओर से राज्य के सभी सरकारी, निजी मेडिकल संस्थानों और सुपर स्पेशियलिटी संस्थानों में पोस्ट कोविड मरीजों को निःशुल्क इलाज उपलब्ध कराने का आदेश जारी किया गया है.

करोड़ों की ठगी करने वाले आरोपी की अग्रिम जमानत HC से खारिज, लंबा आपराधिक इतिहास

WATCH LIVE TV